बसंत पंचमी पर भूलकर भी न करें यह काम, होगा अशुभ

डीएन ब्यूरो

बसंत पंचमी का त्योहार माघ मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाया जाता है। इस दिन विद्या की देवी मां सरस्वती की पूजा अर्चना की जाती है। बंसत पंचमी के दिन भूलकर भी यह काम न करे नहीं तो आपके लिए काफी अशुभ होगा।

 मां सरस्वती (फाइल फोटो)
मां सरस्वती (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: बसंत पंचमी का त्योहार माघ मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाया जाता है। इस दिन विद्या की देवी मां सरस्वती की पूजा अर्चना की जाती है। ऐसी मान्यता है कि इस दिन वाणी और बुद्धि की देवी सरस्वती का जन्म हुआ था। माता सरस्वती को ज्ञान-विज्ञान, संगीत, कला और बुद्धि की देवी भी माना जाता है। इसलिए यह दिन विद्यार्थियों, लेखकों और कलाकारों के लिए खास महत्व रखता है।

यह भी पढ़ें: वसंत पंचमी पर जाने मां शारदा के पूजन की विधि और पाएं विद्या का वरदान

अपनी इस रिपोर्ट में हम आपको कुछ बातें बताने जा रहे है जिसे आप बंसत पंचमी के दिन भूलकर भी न करे नहीं तो आपके लिए काफी अशुभ होगा।

-बंसत पंचमी में शादी विवाह, मुंडन आदि कार्य अशुभ माने जाते हैं अगर ऐसे में आप इस दिन यह काम करते हैं तो आपके जीवन के लिए अशूभ होगा। 

-वसंत पंचमी के दिन मांस, मछली ना खाये और शराब का सेवन नहीं करें। यह आपके लिए सही नहीं है। 

-इस दिन किसी भी पेड़ की कटाई या छटनी न करें, हो सके तो पौधारोपण करें इसका आपको लाभ होगा। 

-वसंत पंचमी के दिन काले और लाल रंग के कपड़े बिल्कुल ना पहने करें। मां सरस्वती सफेद रंग का वस्त्र धारण करती है इसलिए इस दिन आप सभी भी पीले, सफेद या धानी रंग के वस्त्र धारण कर मां की पूजा अर्चना करे। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार