आईएएस टॉपर इरा सिंघल ने बोला ट्विटर पर हमला.. कहा- फेक न्यूज़ का अड्डा है ट्विटर

मनोज टिबड़ेवाल आकाश

सिविल सेवा की परीक्षा में देश भर में पहला स्थान प्राप्त करने वाली 2015 बैच की यूपीएससी टॉपर इरा सिंघल की नजरों में ट्विटर बहुत ही नकारात्मक मीडियम है। ट्विटर में न तो पारदर्शिता है और न ही सच्चाई। यह बात इरा ने डाइनामाइट न्यूज़ के टॉक शो एक मुलाकात में एक साक्षात्कार के दौरान कही।


नई दिल्ली: मुझे लगता है कि ट्विटर बहुत ही नेगेटिव मीडियम है। यहां लोग सिर्फ बुराई करते हैं या फिर अपने किसी एजेंडे के तहत बात कहते हैं। इट्स ए वेरी नेगटिव मीडियम। यह कहना है देश में लाखों नौजवानों की रोल मॉडल और यूपीएससी टॉपर इरा सिंघल का।

उन्होंने यह बातें डाइनामाइट न्यूज़ के एडिटर-इन-चीफ मनोज टिबड़ेवाल आकाश के साथ टॉक शो एक मुलाकात में एक साक्षात्कार के दौरान कहीं।

इरा ने ट्विटर के खिलाफ खुलेआम अपनी नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि मुझे इसमें बिल्कुल भी पॉजिटिविटी नहीं दिखती है। आई एम ए पर्सन हू डज नॉट लाइक नेगटिव थिंक्स। ट्विटर पर लोग सिर्फ नेगेटिव बात बोलते है। कौन सच है कौन झूठा.. एक ही आदमी पचास अकाउंट से बोलता है। 

इरा की यह बयान काफी मायने रखता है क्योंकि देश औऱ दुनिया का एक बड़ा वर्ग यह मानता है कि ट्विटर पर पेड और फेक न्यूज़ की भरमार होती है और ट्विटर इस पर रोक लगाने में पूरी तरह असफल है। 

इरा ने कहा कि ट्विटर पर अक्सर लोग झूठी और प्रायोजित खबरों को शेयर करते हैं और सारी दुनिया को विश्वास दिलाने की झूठी कोशिश करते हैं। अगर आप ज्यादातर कमेंट्स देखेंगे तो वो अधिकतर ट्रोल्स होते हैं। यह कायरता है। आप जब सामने नहीं बोल पा रहे है तो आप गुप्त रुप में अपनी असली पहचान को छिपाकर कुछ भी बोल देते हैं।  

अगर आप सच में ओपिनियन रखना चाहते हैं तो सामने बोलिये। आप पीछे से छिप कर डरपोक की तरह व्यवहार करते हैं। 

उन्होंने कहा कि वे ट्विटर की तुलना में फेसबुक पर ज्यादा भरोसा करती हैं। कम से कम फेसबुक पर आप को पता तो चल जाता है कि कौन इंसान है। उसके फ्रेंड्स दिखते है आप को, उसकी फोटोज दिखती है आप को। उसने क्या किया, इसका एक पूरा एक्सप्लनेशन और बैकग्राउंड होता है। फेसबुक इज नॉट अबाउट अदर पीपल। 

इरा सिंघल का पूरा इंटरव्यू देखने के लिए इस लिंक को क्लिक करें: https://youtu.be/LuF-xCXjfnQ 

 

 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार