स्पेन: सुप्रीम कोर्ट ने फुटबॉल प्लेयर मेसी को दी 21 माह की जेल की सजा

डीएन संवाददाता

स्पेन के सुप्रीम कोर्ट ने फुटबॉल प्लेयर लियोनेल मेसी को 21 महीने की जेल की सजा सुनाई है। साथ ही 15 करोड़ रुपए का जुर्माना भी मेसी को देना पड़ेगा।

लियोनेल मेसी, पिता जॉर्ज होरासियो मेसी के साथ
लियोनेल मेसी, पिता जॉर्ज होरासियो मेसी के साथ

स्पेन: स्पेन के सुप्रीम कोर्ट ने कर चोरी के मामले में फुटबॉल प्लेयर लियोनेल मेसी की 21 महीने की जेल और करीब 15 करोड़ रुपये जुर्माने की सजा बरकरार रखी है। मेसी को कर चोरी के तीन मामलों में सजा सुनाई गई है। उन पर 45.9 लाख डॉलर की कर चोरी का आरोप है। इस सजा पर अंतिम फैसला बार्सिलोना की अदालत सुनाएगी। हालांकि इसकी संभावना कम ही है कि मेसी को जेल में समय बिताना पड़ेगा क्‍योंकि स्‍पेनिश कानून के तहत दो साल से कम की सजा प्रोबेशन में काटी जा सकती है।

लियोनेल मेसी, फुटबॉल प्लेयर

दस साल पुराना है मामला

अर्जेटीना के फुटबॉलर और उनके पिता जॉर्ज होरासियो मेसी को जुलाई 2016 में करीब 40 लाख यूरो कर बचाने के लिए बेलिजे, ब्रिटेन, स्विट्जरलैंड और उरुग्वे की कंपनियों के इस्तेमाल का दोषी पाया गया था। यह कर 2007-09 के दौरान मेसी को तस्वीरों के इस्तेमाल से होने वाली कमाई पर लगाया गया था। बार्सिलोना से खेलने वाले मेसी ने इस धोखाधड़ी में सजा के खिलाफ अपील की थी।

यह भी पढ़ें: ट्विटर पर करोड़पति बने टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी

मेसी ने छिपाई आय

पांच बार के फीफा के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुने गए 29 साल के मेसी पर प्रायोजकों के साथ अनुबंधों के आधार पर मिले करोड़ों रुपये की आय और टैक्स जानकारी छुपाने का आरोप है। बता दें कि 2007 से 2009 के बीच मेसी ने कमाई का बड़ा हिस्सा दूसरे देशों में रखा और टैक्स नहीं चुकाया। जून, 2015 में यह मामला सामने आया। जहां अदालत ने मेसी की सजा बरकरार रखी वहीं उनके पिता की सजा इस आधार पर कम करके 15 महीने कर दी कि फुटबॉलर ने आयकर अधिकारियों के पास धोखाधड़ी से बचाई रकम जमा करा दी।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)













संबंधित समाचार