हीरा तराशने वाले माता-पिता ने चमकाई बेटे की किस्मत, सिर्फ 22 साल की उम्र में कायम की ये मिसाल

डीएन ब्यूरो

कहा जाता है कि अगर कुछ करने की सच्ची लगन और इच्छा हो तो हर काम संभव हो सकता है। ऐसा ही कुछ कर दिखाया है 22 साल के सफीन हसन। सफीन ने इतनी कम उम्र में वो मुकाम हासिल कर लिया है, जिसे हालिस करने में लोगों को ना जानें कितना समय लग जाता है। हीरा तराशने वाले एक दंपती के बेटे ने आज उनका नाम गर्व से ऊंचा कर दिखाया है। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर...

साफिन हसन
साफिन हसन

अहमदाबादः  गुजरात के राजकोट में रहने वाले साफिन हसन आने वाले 23 दिसंबर को नया इतिहास रचने जा रहे हैं। वह देश के सबसे युवा आईपीएस अधिकारी होंगे। 22 साल के हसन राजकोट में हीरा तराशने वाले एक दंपती मुस्तफा और नसीम के बेटे हैं।

साफिन हसन

साफिन हसन की इस सफलता का श्रेय उनके माता-पिता को जाता है। हसन के माता-पिता दोनों ही डायमंड वर्कर हैं, हीरों की छोटी सी यूनिट में काम कर घर चलाते और बेटे को पढ़ाते। इससे भी इतनी कमाई नहीं हो पाती थी कि बेटे की पढ़ाई ठीक से करवा पाते, इसे देखते हुए मां ने रेस्टोरेंट और विवाह समारोहों में रोटी बनाने का काम भी शुरू कर दिया। शायद से माता-पिता की कड़ी मेहनत का ही नतीजा है कि आज उनका बेटा देश का सबसे कम उम्र का IPS बन गया है। 

हसन बचपन से ही अधिकारी बनना चाहते थें। जिसके लिए उन्होनें जून 2016 में ही तैयारी शुरू कर दी थी। वो यूपीएससी और जीपीएससी की परीक्षा में बैठे। यूपीएससी की लिखित परीक्षा 570वीं रैंक के साथ पास की। गुजरात पीएससी में भी सफल हो गए। आईपीएस की ट्रेनिंग के बाद जामनगर में पहली पोस्टिंग हुई है। 23 दिसंबर को वह सहायक पुलिस अधीक्षक (एएसपी) का चार्ज लेंगे। इस बारे में हसन का कहना है कि- किसी प्रवाह में शामिल होने की बजाय, सफलता के लिए हमें खुद अपना विश्लेषण करना चाहिए।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार