आजमगढ़ पहुंचे सपा सांसद धर्मेन्द्र यादव ने कहा- महाराजा सुहेलदेव राजभर का समाज के उत्थान में बड़ा योगदान

डीएन संवाददाता

यूपी के आजमगढ़ जिले के मार्टिनगंज कस्बे में महाराजा सुहेलदेव राजभर की जयंती के मौके पर एक विशाल कार्यक्रम का आय़ोजन किया गया। इसमें मुख्य अतिथि के तौर पर पहुंचे समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ सांसद धर्मेन्द्र यादव का जोरदार स्वागत किया गया। डाइनामाइट न्यूज़ एक्सक्लूसिव..


आजमगढ़: जनपद मुख्यालय से 40 किमी दूर मार्टिनगंज क्षेत्र के ग्राम- महुजा नेवादा में सुहेलदेव मानव गरीब सेवा संस्थान की ओर से महाराजा सुहेलदेव राजभर की जयंती पर एक विशाल कार्यक्रम का आय़ोजन किया गया।

इसमें बतौर मुख्य अतिथि भाग लेने दिल्ली से समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ सांसद धर्मेन्द्र यादव पहुंचे। यहां राजभर समाज के लोगों ने फूल-मालाओं से बदायूं सांसद का जोरदार स्वागत किया। 

इस दौरान उमड़ी भारी भीड़ को संबोधित करते हुए सांसद धर्मेन्द्र यादव ने जाति आधारित जनगणना न कराने को लेकर सरकार को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि राजभर समाज से लेकर पिछड़े व दलितों के हकों के साथ आज तक न्याय नही हुआ। भाजपा की मानसिकता वाले सामंती लोगों ने हमेशा पिछड़े व दलितों को उनके अधिकारों से वंचित करने का काम किया है। 

मंडल आय़ोग की रिपोर्ट लागू होने के बाद भी षड़ंयत्र किया जा रहा है। यही कारण है कि समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बसपा के साथ गठबंधन करने का फैसला लिया। जबसे ये निर्णय सामने आय़ा है तबसे क्या कारण है कि भाजपा के लोग बौखलाये हुए हैं। 

गठबंधन के मनोबल को तोड़ने के लिए भाजपा के लोगों ने पिछड़े, दलितों और वंचितों को सांप-छछुंदर कहकर अपमानित करने का काम किया। 

प्रधानमंत्री कैसी भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं हमारे गठबंधन को मिलावटी बता रहे हैं। क्या ये प्रधानमंत्री के पद पर बैठे व्यक्ति को शोभा देता है कि वे इस तरह की भाषा विपक्षी दलों के लिए इस्तेमाल करें।

 

डाइनामाइट न्यूज़ से एक्सक्लूसिव बातचीत

वरिष्ठ सांसद धर्मेन्द्र यादव ने अपने व्यस्त कार्यक्रम के बीच में समय निकाल डाइनामाइट न्यूज़ से एक्सक्लूसिव बातचीत की। उन्होंने कहा कि महाराजा सुहेलदेव राजभर का समाज के उत्थान में बड़ा योगदान है। समाजवादी पार्टी राजभर समाज को मुख्यधारा में लाने का प्रयास करेगी। एक सवाल के जवाब में उनका कहना था कि गठबंधन को जिस तरह जनता का समर्थन मिल रहा है उससे विपक्षी दल परेशान हो उठे हैं। उन्होंने दावा किया कि सपा-बसपा गठबंधन आजमगढ़ जिले की दोनों सीट भारी मतों से जीतेगी।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …