लखनऊ: अमरेन्द्र और राजमति निषाद ने भाजपा छोड़ फिर थामा सपा का दामन..अखिलेश यादव ने प्रेस वार्ता में किया ऐलान

डीएन ब्यूरो

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज लखनऊ में प्रेस वार्ता को संबोधित किया। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में अखिलेश यादव ने गोरखपुर के अमरेन्द्र निषाद और राजमति निषाद की समाजवादी पार्टी में वापसी का ऐलान किया गया। डाइनामाइट न्यूज़ की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट..

अखिलेश यादव की मौजूदगी में अमरेन्द्र निषाद-राजमति निषाद ने की सपा में वापसी
अखिलेश यादव की मौजूदगी में अमरेन्द्र निषाद-राजमति निषाद ने की सपा में वापसी

लखनऊ: गोरखपुर की राजनीति में अहम स्थान रखने वाले राजमति और अमरेन्द्र निषाद ने आज सपा का दामन फिर से थाम लिया। इसके साथ ही मछली शहर से रामचरित्र निषाद भी सपा में शामिल हुये हैं।

पूर्व मंत्री जमुना निषाद के पुत्र अमरेंद्र निषाद को समाजवादी पार्टी ने 2017 के विधानसभा चुनाव में पिपराइच विधानसभा क्षेत्र से प्रत्याशी बनाया था। इसके पहले इनकी मां राजमति निषाद पिपराइच से सपा की विधायक थी। सपा ने 2014 के लोकसभा चुनाव में भी राजमति निषाद को गोरखपुर संसदीय क्षेत्र से टिकट देकर चुनाव लड़ाया था लेकिन राजमति सांसद का चुनाव हार गई।

 

प्रेस वार्ता के दौरान कांग्रेस पर हमला बोलते हुए पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा और कांग्रेस दोनों सीबीआई और ईडी जैसी केंद्रीय एजेंसियों का सत्ता में रहने पर दुरुपयोग करते आए हैं। वहीं उन्होंने चंदौली, बलिया, महाराजगंज समेत दूसरे लोकसभा सीटों पर सपा प्रत्याशी घोषित करने के सवाल पर कुछ भी बोलने से मना कर दिया और कहा कि इसका फैसला पार्टी करेगी।

अखिलेश यादव की मौजूदगी में अमरेन्द्र और राजमति निषाद ने थामा सपा का दामन

वहीं प्रदेश की राजधानी लखनऊ से सौतेले व्यवहार का आरोप लगाते हुए पूर्व सीएम ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार दोनों सरकारें लखनऊ में विकास को लेकर उदासीन रही हैं। ऐसे में लखनऊ की जनता को भाजपा को इसका जबाब देते हुए सपा उम्मीदवार को यहां से जिताना चाहिए। इस दौरान उन्होनें भाजपा पर बेवजह के मुद्दे उठाकर जनता को भ्रमित करने का आरोप लगाया। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार