विधायक ने कोरोना की जंग में दिये एक करोड़ तो सांसद ने महज 25 लाख, बना चर्चा का विषय

डीएन संवाददाता

पीएम और सीएम की लगातार कोशिश है कि हर एक नागरिक कोरोना की लड़ाई में दिल खोलकर सहयोग करे। जाहिर है इस अपील के बाद जनता के वोटों पर चुने गये जनप्रतिनिधियों की जिम्मेदारी और बढ़ जाती है। इन सबके बीच सत्तारुढ़ दल के विधायक फतेह बहादुर सिंह और सांसद पंकज चौधरी के पत्र लोगों के बीच चर्चा का विषय बन गये हैं। डाइनामाइट न्यूज़ एक्सक्लूसिव:


महराजगंज: एक पार्टी के दो जनप्रतिनिधियों का हाल देख व सुन आप हैरान रहे जायेंगे। महराजगंज की पनियरा विधानसभा के पूर्व विधायक और वर्तमान में जिले की सीमा से सटे कैंपियरगंज के भाजपाई विधायक फतेह बहादुर सिंह ने कोरोना की लड़ाई में अपनी विधायक निधि से एक करोड़ रुपया जिला प्रशासन को देने का ऐलान किया है।

विधायक फतेह बहादुर सिंह ने दिखायी दरियादिली

डाइनामाइट न्यूज़ को फतेह बहादुर सिंह ने बताया कि उन्होंने डीएम को पत्र लिखा है कि इस धन से कोरोना के रोकथाम संबंधी जरुरी उपकरण खरीदे जायें। 

यह भी पढ़ें: पांच महीने से लावारिस की तरह भटक रहे हैं निलंबित आईएएस अमरनाथ उपाध्याय, अकड़ हुई ढ़ीली

एक अन्य पत्र सोशल मीडिया पर महराजगंज से छठी बार चुने गये भाजपा के सांसद पंकज चौधरी का वायरल हुआ, जिसमें उन्होंने महज 25 लाख रुपये जनता के दम पर मिली सांसद निधि से देने का ऐलान किया। इसके लिए उन्होंने डीएम को पत्र लिखा।

सांसद निधि से महज 25 लाख देने का पंकज चौधरी का पत्र चर्चा के केन्द्र में

जब यह दोनों पत्र सोशल मीडिया पर वायरल हुए तो लोगों ने तरह-तरह की प्रतिक्रिया दी। एक विधानसभा के विधायक जब जनता के हित में एक करोड़ दे सकते हैं तो क्या पांच विधानसभा वाली लोकसभा का नेतृत्व करने वाले सांसद को महज 25 लाख देकर अपनी जिम्मेदारियां पूरी कर लेनी चाहिये। वह भी तब जब सांसद निधि का धन विधायक निधि से कहीं अधिक होता है। 

दिलचस्प यह भी है कि महराजगंज की पांच विधानसभा में से सत्तारुढ़ भाजपा के चार विधायक है और खबर लिखे जाने तक इनमें से किसी ने भी अपनी विधायक निधि को जनता के हित में कोरोना की लड़ाई के नाम पर समर्पित करना उचित नहीं समझा है। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार