महराजगंज: रंगदारी मांगने वालों ने पुलिस टीम पर की जबरदस्त फायरिंग, जाने.. पुलिस ने कैसे संभाला मोर्चा, किया गिरफ्तार

डीएन संवाददाता

सर्राफा व्यवसाई से दस लाख की रंगदारी मांगने वाले बदमाशों को पकड़ने गयी पुलिस टीम भी उस समय सकते में आ गयी, जब बदमाशों ने पुलिस टीम पर जबरदस्त फायरिंग करते हुए कई राउंड गोलियां चलाई। पुलिस ने भी मोर्चा बंदी नहीं छोड़ी और बदमाशों को दबोचकर ही वापस लौटी। डाइनामाइट न्यूज़ की इस एक्सक्लूसिव रिपोर्ट में जानिये, इस मामले पर क्या बोले पुलिस अधीक्षक आरपी सिंह


महराजगंज: श्यामदेउरवां थाने के धनहा नायक गांव के पास गुरूवार तड़के परतावल के सर्राफा व्यवसाई राजकुमार वर्मा से दस लाख की रंगदारी वसूलने आ रहे बदमाशों को गिरफ्तार करना पुलिस के लिये इतना आसान नहीं था। गिरफ्तारी के लिये पहुंची पुलिस टीम पर बदमाशों द्वारा कई राउंड गोलियां भी चलाई गयी लेकिन आखिरकार पुलिस ने भी जबावी फायरिंग में दो बदमाशों को गोली मारी और उन्हें घायल अवस्था में गिरफ्तार करने में सफलता पायी। पुलिस अधीक्षक आरपी सिंह ने इस पूरे मामले का खुलासा कर कई चौकाने वाली जानकारियां दी है। 

इस मुठभेड़ में दो पुलिस कर्मियों को भी हल्की चोटें आयी है। घायल बदमाशों को इलाज के बाद अस्पताल से थाने भेज दिया गया है। 

 

 

क्या बोले, पुलिस अधीक्षक आरपी सिंह 

पुलिस अधीक्षक आरपी सिंह ने इस मामले की जानकारी देते हुए बताया कि श्यामदेउरवां थाने के परतावल निवासी स्वर्ण व्यवसाई राजकुमार वर्मा के मोबाईल पर तीन बार बदमाशों का दल लाख री रंगदारी के लिये फोन आया। फिरौती न देने पर उन्हें जान से मारने की धमकी दी गयी। राजकुमार वर्मा ने पुलिस से इसकी शिकायत की। 

पुलिस ने बढ़ाई व्यापारी की सुरक्षा 

एसपी ने कहा कि राजकुमार की शिकायत के बाद श्यामदेउरवां पुलिस ने इस मामले की छानबीन शुरू की और व्यापारी की सुरक्षा बढ़ा दी गई। बदमाशों ने अंतिम बार 26 सिंतंबर को राजकुमार को फिर फोन कर फिरौती की मांग की और घर पर एक पर्ची भेजकर जान से मारने की धमकी दी। जिसके बाद पुलिस ने सर्राफा व्यवसाई की तहरीर पर अज्ञात बदमाशों के खिलाफ केस दर्ज किया। पुलिस पूरे घटनाक्रम पर नजर बनाये रखने के साथ बदमाशों को रडार पर लेने में जुटी रही। इस आपरेशन में 5 टीमें लगाई गयी थी। 

पुलिस पर फायरिंग करते रहे बदमाश

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि आज सुबह साढे 3 बजे मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने दो बाईक सवार चार बदमाशों को धनहा नायक गांव के पास घेर लिया। इसी बीच पुलिस को देख दो बदमाश बाईक लेकर भाग गये जबकि अपने को पुलिस से घिरता देख दो बदमाश पुलिस पर फायरिंग करते हुए खेतों की तरफ भागने लगे। पुलिस ने भी अपने बचाव में गोलियां चलाई। दोनों बदमाशों के पैरों में पुलिस की गोली लगी और दोनों गिर पड़े। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर इलाज के लिये अस्पताल ले आयी। 

दो देसी कट्टा, जिन्दा कारतूस भी बरामद

बदमाशों की शिनाख्त सीवान बिहार निवासी गुड्डू शर्मा और निहाल खान के रूप में की गई। पुलिस ने बदमाशों के कब्जे से 2 देसी कट्टा, जिन्दा कारतूस, बाईक एवं मोबाईल फोन बरामद किया है।  

कई मामलों में वांछित है बदमाश

एसपी आरपी सिंह ने बताया कि पकड़े गए दोनों बदमाशों के खिलाफ बिहार समेत कई थानों में गंभीर आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं और दोनों कई मामलों में वांछित हैं। बदमाशों से पूछताछ जारी है।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …