महराजगंज: वन विभाग ने जंगलों में चप्पे-चप्पे पर लगाये कैमरे, जानें..आखिर क्या है वजह

डीएन संवाददाता

जिले के सोहगीबरवा वनजीव प्रभाग और मधवलिया रेंज की टीम ने बीती रात क्षेत्र के जंगलों में चप्पे-चप्पे पर कैमरे लगाती रही। आखिर क्यों ऐसा कर रहा है वन विभाग, जानिये डाइनामाइट न्यूज़ की इस एक्सक्लूसिव रिपोर्ट में

कैमरे लगाती वन विभाग की टीम
कैमरे लगाती वन विभाग की टीम

महराजगंज: सोहगीबरवा वनजीव प्रभाग और मधवलिया रेंज में और बाघों की निगरानी के लिए वन विभाग के अधिकारियों ने जंगल के चप्पे-चप्पे में कैमरे लगा दिये है। इन कैमरों को लगाने का उद्देश्य एक जगह से बैठकर जीव जंतुओं पर नजर रखना और उनकी निगरानी करना है। 

 

वन्य जीव प्रभाग में मधवलिया रेंज के जंगल में खासकर बाघों की निगरानी करने के लिए कैमरे लगाये हैं। जिससे यह पता लगाया जा सके कि जंगल में कुल कितने बाघ तथा अन्य जीव है।
पीलीभीत से आए वर्ल्ड वाइड फारेस्ट विभाग के उच्च अधिकारी तरुन की देखरेख में मधवलिया रेंज के जंगल में कैमरे लगाये गये। इनसे वन्य जीवों निरीक्षण तथा विलुप्त हो रहे जानवरों की संख्या भी ज्ञात की जायेगी।

 

डाइनामाइट न्यूज़ से बातचीत में तरुन ने कहा कि यह कैमरे खास तौर पर बाघों की निगरानी के लिए लगाये गये हैं। कैमरा उच्च अधिकारियों के समक्ष लगाया गये।

इस मौके पर रेंज आफिसर मधवलिया जगरनाथ प्रसाद, अभिषेक सिंह वन दरोगा, कासिम अली वन दरोगा, विजय बहादुर फारेस्ट गार्ड, बोरिक यादव, आदि लोग उपस्थित रहे। 
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार