UP STF ने एलटी ग्रेड सहायक अध्यापक परीक्षा में सॉल्वर गैंग का किया पर्दाफाश, सरगना समेत 11 गिरफ्तार

डीएन ब्यूरो

यूपी एलटी ग्रेड सहायक अध्यापक की परीक्षा में सॉल्वर बैठाने वाले गैंग का पर्दाफाश करते हुए यूपी एसटीएफ ने सरगना समेत 11 लोगों को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार आरोपियों के कब्जे से दर्जनों एडमिट कार्ड, 15 मोबाइल समेत कई संदिग्ध चीजें बरामद की गयी। पूरी खबर..

गिरफ्तार आरोपी
गिरफ्तार आरोपी

लखनऊ: यूपी एसटीफ ने राज्य में रविवार को संचालित हो रही एलटी ग्रेड सहायक अध्यापक की परीक्षा में सॉल्वर बैठाने वाले गैंग का पर्दाफाश करते हुए सरगना समेत 11 लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किये गये आरोपियों के कब्जे से दर्जनों एडमिट कार्ड, 15 मोबाइल पोन समेत कई संदिग्ध चीजें बरामद की गयी। गिरप्तार किये गये आरोपियों में गैंग का सरगना ओम सहाय समेत 5 अभ्यर्थी भी शामिल है। 

 

 

यूपी एसटीफ की इलाहाबाद यूनिट के टीम ने परीक्षा से ठीक पहले इन आरोपियों को थाना कर्नलगंज क्षेत्र से गिरफ्तार किया। यह गैंग विभिन्न प्रतयोगी परीक्षाओं में प्रश्न पत्र आउट कराकर, सॉलवर बैठाकर और अभ्यर्थियों से मोटी रकम लेकर प्रदेश के अलग-अलग सेन्टरों पर काम किया करते थे। गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ जारी है।

गिरफ्तार किये गये आरोपी 

इस गैंग का मुख्य सरगना ओम सहाय पुत्र अवध बिहारी निवासी छतहरा तरहार थाना लालापुर इलाहाबाद का रहने वाला है। इस गैंग के अन्य सदस्यों में विनित कुमार पुत्र दिलीप कुमार निवासी काटीपार मजरा थाना मन्झनपुर कौशांबी और जितेन्द्र कुमार पुत्र संतोष कुमार निवासी काटीपार मजरा थाना मन्झनपुर कौशांबी शामिल है। 

गैंग के सभी सॉल्वर बिहार के रहने वाले 

गिरफ्तार किये गये गैंग में साल्वरों में चिन्टू कुमार पुत्र लल्लन साह, भोला कुमार पुत्र राम अशीष,  संजू कुमारी पत्नी कन्हाई पंडित, कन्हाई पंडित पुत्र, पिन्टू कुमार पुत्र विनेशवर साहू,  सौरभ पुत्र अखिलेश शर्मा शामिल है। ये सभी आरोपी बिहार के रहने वाले हैं। 

अभ्यर्थी भी थे शामिल 

गिरफ्तार अभ्यर्थियों में सुरेश भारतीय पुत्र राजरुप (बैंक बर्रा कानपुर), अशोक कुमार पुत्र श्रीपाल (फतेहपुर), अशोक यादव पुत्र बलवन्त सिंह (थाना घुरपुर इलाहाबाद) शामिल है।  


 













संबंधित समाचार