Mukhtar Ansari: माफिया मुख़्तार अंसारी एंबुलेंस केस में बड़ी कार्रवाई, डाक्टर अलका राय समेत दो गिरफ़्तार

डीएन ब्यूरो

गैंगस्‍टर और बाहुबली बसपा विधायक मुख्तार अंसारी से जुड़े चर्चित एम्बुलेंस केस में पुलिस ने डॉक्टर अलका राय समेत दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पढिये डाइनामाइट न्यूज की पूरी रिपोर्ट

माफिया मुख्तार के एंबुलेंस रहस्य  से उठा पर्दा (फाइल फोटो)
माफिया मुख्तार के एंबुलेंस रहस्य से उठा पर्दा (फाइल फोटो)


लखनऊ: हाल ही में पंजाब से यूपी की जेल में शिफ्ट किये गये गैंगस्‍टर और बाहुबली बसपा विधायक मुख्तार अंसारी से जुड़े चर्चित एम्बुलेंस केस में पुलिस ने मऊ के एक अस्पताल की निदेशक और डॉक्टर अलका राय समेत दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार किये गये दोनों आरोपियों को पुलिस द्वारा मंगलवार को अदालत में पेश किया जाएगा। इस गिरफ्तारी के साथ ही बहुचर्चित एम्बुलेंस के रहस्य से भी पूरी तरह पर्दा उठ गया है।

एम्बुलेंस केस की एसआईटी (स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम) की जांच के बाद पुलिस द्वारा दोनों आरोपियों की गिरफ्तारियां की गईं। अलका राय पर फर्जी दस्तावेजों के आधार एम्बुलेंस का रजिस्ट्रेशन कराने का आरोप है।

गिरफ्तार की गई डॉक्टर अलका राय मऊ के श्याम संजीवनी अस्पताल की डायरेक्टर है। अलका के साथ ही पुलिस ने दूसरे मुल्ज़िल एस एन राय को भी गिरफ्तार किया है। इस मामले में एक अन्य आरोपी राजनाथ यादव की गिरफ्तारी पहले ही हो चुकी है। राजनाथ यादव को भी बाराबंकी पुलिस ने मऊ जिले से ही गिरफ्तार किया था। 

बता दें कि गैंगस्टर और माफिया मुख्तार अंसारी को वसूली के एक मामले में 31 मार्च को पंजाब की रोपड़ जेल से इस एम्बुलेंस से मोहाली की अदालत ले जाया गया था। इस वाकये का वीडियो सामने आने पर एम्बुलेंस का रहस्य गहरा गया था। यह एम्बुलेंस कहां से आई और कौन लेकर आया, जैसे कई सवाल उठ रहे थे।

बाराबंकी में दो अप्रैल को एम्बुलेंस के दस्तावेज फर्जी पाए जाने पर मामला दर्ज किया गया था। यह एम्बुलेंस राय के नाम से रजिस्टर्ड है। इसके बाद असिस्टेंट स्टेट रोड ट्रांसपोर्ट ऑफिसर ने अलका राय के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। अब पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। 










संबंधित समाचार