लखनऊ: गोरखपुर त्रासदी को लेकर छात्रों का स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ प्रदर्शन, बर्खास्तगी की मांग

डीएन संवाददाता

गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कालेज में हुई बच्चों की मौत को लेकर विपक्ष लगातार योगी सरकार पर हमलावर है। इसी कड़ी में भारतीय महिला फेडरेशन और स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया ने सरकार से स्वास्थ्य मंत्री को बर्खास्त करने की मांग की।

भारतीय महिला फेडरेशन और स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया प्रदर्शन करते हुए
भारतीय महिला फेडरेशन और स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया प्रदर्शन करते हुए

लखनऊ: गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कालेज में मासूमों की मौत को लेकर सभी सियासी दल योगी सरकार पर हमलावर हैं। आज इसी मुद्दे को लेकर भारतीय महिला फेडरेशन और स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया के कार्यकर्ताओं ने स्वास्थ्य मंत्री सिदार्थनाथ सिंह को बर्खास्त करने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया और सरकार से तत्काल पीड़ित परिवारों को मुआवजा उपलब्ध कराने की मांग भी की।

एडवा नेता सीमा राना ने योगी सरकार से पीड़ित परिवारों को 10-10 लाख की सहायता राशि देने की मांग की। इसी के साथ उन्होनें कहा की स्वास्थ्य विभाग की घोर लापरवाही के कारण केवल 5 दिनों के भीतर 60 मासूम बच्चों की मौत हुई है। इस मामलें मे स्वास्थ्य मंत्री की सीधी जवाबदेही बनती है, इसलिए सीएम योगी उन्हें तुरंत बर्खास्त करें।

विश्व योग दिवस को लेकर भाजपा की आलोचना

सीमा ने कहा की विश्व योग दिवस के मौके पर सरकार केवल एक दिन में करोड़ो रूपये खर्च कर डालती है मगर सरकार के पास आक्सीजन आपूर्ति करने वाली कंपनी को देने के लिए 65 लाख रुपए भी नही हैं।

एसआईटी से जांच कराने की मांग

एडवा और एसएफआई कार्यकर्ताओं ने गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कालेज प्रकरण की हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज की अध्यक्षता में एसआईटी बनाकर जांच कराने की बात कही। उन्होनें सीएम योगी को निशाने पर लेते हुए कहा की देश भर में इंसेफलाइटिस के 60 प्रतिशत से ज्यादा मामले केवल पूर्वांचल से ही आते हैं। सूबें में सरकार बनने के बाद उन्होंने मामलें मे क्या कदम उठाए।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार