Lucknow: CAA, NRC के खिलाफ प्रदर्शन कर रहीं महिलाओं के मानवाधिकार का हो रहा हनन

डीएन ब्यूरो

भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (माले) ने राजधानी लखनऊ के घंटाघर पर नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ 56 दिनों से लगातार आंदोलनरत महिलाओं के मानवाधिकार का हनन करने का आरोप योगी सरकार और जिला प्रशासन पर लगाया है।

फाइल फोटो
फाइल फोटो

लखनऊ: भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (माले) ने राजधानी लखनऊ के घंटाघर पर नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ 56 दिनों से लगातार आंदोलनरत महिलाओं के मानवाधिकार का हनन करने का आरोप योगी सरकार और जिला प्रशासन पर लगाया है।

यह भी पढ़ेंः Crime in UP- डीजे को लेकर दो पक्षों में जमकर हुई लड़ाई, कई गंभीर घायल 
पार्टी ने आज यहां जारी बशन में कहा कि अब तक तीन महिलाओं की मौत धरनास्थल पर बारिश में भींगने और ठंड से हो चुकी है। लेकिन पुलिस प्रशासन कम-से-कम एक टेंट तक लगाने की अनुमति नहीं दे रहा है जबकि धरना वहां दिन-रात जारी है। महिलाओं को खुले में बारिश-ओले व ठंड की मार साहनी पड़ रही है। यदि प्रशासन ने जरा भी मानवीय रुख दिखाया होता, तो इन मौतों को रोका जा सकता था। (वार्ता)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार