लखनऊ: जूनियर कर्मचारियों का वेतन सीनियर्स से भी ज्यादा

डीएन संवाददाता

वाणिज्यकर चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संघ का कहना है कि वेतन विसंगति के कारण कई सीनियर कर्मचारियों को उनके जूनियर से भी कम वेतन मिल रहा है, जिसको लेकर कर्मचारियों में भारी नाराजगी है। कर्मचारियों ने इन विसंगतियों को शीघ्र दूर करने की मांग की।

वाणिज्यकर कर्मचारी अधिवेशन समरोह
वाणिज्यकर कर्मचारी अधिवेशन समरोह

लखनऊ: वाणिज्यकर मुख्यालय परिसर में उत्तर प्रदेश चतुर्थ श्रेणी राज्य कर्मचारी संघ के बैनर तले वाणिज्यकर कर्मचारियों का अधिवेशन आयोजित किया गया। कर्मचारियों ने वेतन निर्धारण में आ रही गड़बड़ियों को दूर करने की मांग की। इस मौके पर वाणिज्यकर कर्मचारियों ने समस्याओं से संबंधित एक ज्ञापन एडिशनल कमिश्नर को सौंपा।

वाणिज्यकर चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संघ अध्यक्ष आशीष यादव ने अधिवेशन में कहा कि कर्मचारियों के वेतन फिक्सेशन में भारी कमियां सामने आ रही हैं। कई सीनियर कर्मचारियों को उनके जूनियर से भी कम वेतन मिल रहा है। जिसको लेकर कर्मचारियों में भारी नाराजगी है। उन्होंने कहा की वेतन में होने वाली गड़बड़ियों की जल्द से जल्द जांच कराकर इसे ठीक करने का काम किया जाए। उन्होंने मांग उठाई की संविदा कर्मचारियों को ठेकेदारी प्रथा से बाहर निकालकर मुख्यधारा में शामिल किया जाए और विभागीय स्तर पर उन्हें वेतन का भुगतान किया जाए ताकि उनके शोषण पर लगाम लग सकें।

इसके अलावा कर्मचारी संघ का मांग है कि फील्ड में काम करने वाले कर्मचारियों को फील्ड चार्ज का भुगतान किया जाए। जिससे उन्हें फिल्ड चार्ज के भुगतान को लेकर बेवजह परेशान न होना पड़े।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार