इस देश ने कर दिया ऐसा कमाल, जो आज तक कोई नहीं कर पाया

डीएन ब्यूरो

ईरान के तेहरान विश्वविद्यालय ने एक ऐसा रोबोट बनाया है जो 100 विभिन्न भाषाओं को समझ, बाेल और अनुवाद कर सकता है। इतना ही नहीं, यह चेहरों को पहचान सकता है और फुटबॉल को किक भी मार सकता है।

रोबोट
रोबोट

तेहरान:  ईरान के तेहरान विश्वविद्यालय ने एक ऐसा रोबोट बनाया है जो 100 विभिन्न भाषाओं को समझ, बाेल और अनुवाद कर सकता है। इतना ही नहीं यह चेहरों को पहचान सकता है और फुटबॉल को किक भी मार सकता है। आईआरआईबी टीवी रिपोर्ट के अनुसार विश्वविद्यालय के फैकल्टी ऑफ इंजीनियरिंग ने चार साल में इस रोबोट को बनाकर तैयार किया है।

यह भी पढ़ें: अमेरिका चीन व्यापार समझौते पर जनवरी के पहले सप्ताह में होंगे हस्ताक्षर 

इसका नाम सुरेना रखा गया है। रिपोर्ट के अनुसार यह रोबोट चीजों को उठा सकता है और चेहरों को पहचाने में भी उसे महारत हासिल है। साथ ही वह हाथ मिलाकर लोगों का अभिनंदन भी कर सकता है। सूत्रों ने बताया सेंटीमीटर लंबा और 70 किलोग्राम वजनी सुरेना प्रति घंटा 0.7 किलोमीटर की गति से चलने में सक्षम है और उबड़-खाबड़ जमीन पर भी यह आगे-पीछे और दाये-बायें मुड़ सकता है। इसके अलावा भी इसमें मनुष्यों के समान कई गुण निहीत हैं। (वार्ता)













संबंधित समाचार