भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच साइन हुए 6 एमओयू, आतंकवाद के मुद्दे पर भी ही हुई बातचीत

डीएन संवाददाता

भारत दौरे पर आये ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मैल्कम टर्नबुल के साथ सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साझा प्रेस कान्फ्रेंस को संबोधित किया। इस दौरान भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच कुल 6 समझौते हुए। जिसमें आतंकवाद के खात्मे को लेकर अहम मुद्दे पर भी बातचीत की गयी।

साझा प्रेस कान्फ्रेंस में एक साथ ऑस्ट्रेलिया और भारत के प्रधानमंत्री
साझा प्रेस कान्फ्रेंस में एक साथ ऑस्ट्रेलिया और भारत के प्रधानमंत्री

नई दिल्ली: ऑस्ट्रेलिया के पीएम मैल्कम टर्नबुल अपनी चार दिवसीय यात्रा के लिए रविवार को दिल्ली पहुंचे है, बता दे की पीएम टर्नबुल का यह पहला भारत दौरा है। सोमवार को प्रधानमंत्री टर्नबुल का राष्ट्रपति भवन में औपचारिक स्वागत किया गया। इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी से उन्होंने मुलाकात की।द्विपक्षीय वार्ता के दौरान भारत और ऑस्ट्रेलिया ने 6 समझौतों पर हस्ताक्षार किए। भारत और ऑस्ट्रेलिया ने आतंकवाद और संगठित अपराध के खिलाफ सहयोग समेत 6 एमओयू पर साइन किए। 

द्विपक्षीय वार्ता के बाद पीएम मोदी और ऑस्ट्रेलियाई पीएम ने ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस की। कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि मुझे उम्मीद है कि ऑस्ट्रेलिया के पीएम के भारत दौरे से हमारे रिश्ते और मजबूत होंगे। मोदी ने कहा कि आपके नेतृत्व में हमारे रिश्तों ने नए मील के पत्थर को छुआ है। आपकी भारत यात्रा से सामरिक समझौते में नई प्राथमिकताओं को आकार देने का मौका दिया है। हमने द्विपक्षीय संबंधों की संपूर्ण प्रगति की समीक्षा की। प्रधानमंत्री मोदी ने भारत-प्रशांत क्षेत्र में शांति और स्थिरता पर जोर देते हुए कहा कि आतंकवाद और साइबर सुरक्षा जैसी चुनौतियों से लड़ने के लिए वैश्विक रणनीति और समाधान की आवश्यकता है। 

इस मौके पर ऑस्ट्रेलियाई के पीएम टर्नबुल ने प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी भारत को विकास के मार्ग पर आगे बढ़ा रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत की उपलब्धियां पूरी दुनिया के लिए प्रेरणा है। हम साथ मिल कर पहले के मुकाबले और ज्यादा करीब आकर काम करने की कोशिश करेंगे। 

विदेश मंत्रालय के मुताबिक दोनों देशों के बीच सुरक्षा, पर्यावरण, खेल, तकनीक, विज्ञान और स्वास्थ्य सेवाओं जैसे कई अन्य मुद्दों पर भी एमओयू साइन किए गए हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार