कुएं में उतरे 4 युवक, 2 की जहरीली गैस ने ले ली जान

डीएन ब्यूरो

प्रदेश में लगातार रुक- रुककर हो रही बारिश से जहां जनजीवन प्रभावित हुआ है, वहीं कुछ ऐसे हादसे भी हो रहे हैं जिसका अंदाजा लगाना भी मुश्किल है। आखिर हरदोई में 4 युवक किसलिए कुएं में उतरे कि जिससे उनकी जान चली गई। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट

फाइल फोटो
फाइल फोटो

हरदोईः कुएं में बीस फिट नीचे रखे पंखे को पानी में डूबने से बचाने के लिए उतरे चार भाई जहरीली गैस की चपेट में आ गए जिससे दो भाइयों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया जबकि दो की हालत गंभीर बनी हुई है।

मामला अतरौली थाना क्षेत्र के गांव नौवाखेड़ा मजरा पुवांया का है। यहां उवाखेड़ा से लगभग आधे किलोमीटर दूर स्थित कुएं के अंदर फीस फीट नीचे एक पंखा खेतों की सिंचाई के लिए गांव के राकेश पुत्र कल्लू ने रखा था। 

प्रदेश में लगातार रुक- रुककर हो रही बारिश से कुएं में पानी का स्तर बढ़ गया और इसके अंदर पांच फिट ऊपर तक पानी चढ़ गया। पंखे को पानी से बचाने के लिए जब बुधवार को दिन में सगे भाई राकेश पुत्र कल्लू व सत्रोहन पुत्र कल्लू और इनके साथ दो चचेरे भाई विकास पुत्र हरिपाल व प्रभास पुत्र हरिपाल कुएं के उतर गए।

जब काफी देर होने पर कोई भी कुएं से बाहर नहीं आया तो यह देख सत्रोहन और उसका चचेरा भाई प्रभास भी कुएं में नीचे उतर गए। जब वो भी बाहर नहीं आए तो यहां दूर खढ़ी उन लोगों की चाची बड़क्की पत्नी खगेसुर ने इस बारे में ग्रामीणों को बताया। मौके पर जब ग्रामीण पहुंचे तो उन्होंने इस बारे में पुलिस को भी सूचित किया। पुलिस ने ग्रामीणों के साथ जब चारों लोगों को तुरंत कुएं से बाहर निकाला।

सभी को नजदीकी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भरावन इलाज के लिए ले जाया गया। यहां इलाज के दौरान राकेश(35) ने दम तोड़ दिया। वहीं बाकी तीन अन्य लोगों की हालत को गंभीर देखते हुए उन्हें लखनऊ में ट्रामा सेंटर के लिए रेफर किया गया। तभी यहां रास्ते पर 20 वर्षीय विकास ने दम तोड़ दिया।

वहीं सत्रोहन और प्रभास की हालत गंभीर बनी हुई है। मामले में इंस्पेक्टर दीनानाथ मिश्र का कहना हैं कि पुलिस को जैसे ही इसकी सूचना मिली पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंची और जितनी जल्दी संभव हो सका सभी को नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती करवाया गया।








संबंधित समाचार