गोरखपुर: शिक्षिका की सजा से परेशान मासूम ने खाया जहर, अस्पताल में मौत

डीएन संवाददाता

शिक्षिका की प्रताड़ना से परेशान होकर जहर खाकर आत्महत्या की कोशिश करने वाले पांचवी क्लास के 11 वर्षीय छात्र नवनीत प्रकाश की अस्पताल में मौत हो गयी।

मृतक छात्र का आई कार्ड
मृतक छात्र का आई कार्ड

गोरखपुर:  शिक्षिका की प्रताड़ना से परेशान होकर जहर खाने वाले पांचवी क्लास के छात्र नवनीत प्रकाश की 5 दिन के बाद अस्पताल में मौत हो गयी है । 11 वर्षीय नवनीत गोरखपुर के शाहपुर में स्थित सेंट एंथोनी स्कूल में पढ़ता था। क्लास टीचर द्वारा सजा दिये जाने के बाद नवनीत ने जहर खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की थी। नवनीत के स्कूल बैग से सोसाइड नोट भी बरामद किया गया था।

जहर खाने के बाद नवनीत की स्थिति काफी नाजुक हो गई थी, जिसे इलाज के लिये गंभीर स्थिति में बीआरडी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान पाचवें दिन कल शाम नवनीत की मौत हो गई।

मां-बाप का इकलौता बेटा था नवनीत

छात्र नवनीत की मौत के बाद परिवार में मातम का माहौल है। छात्र अपनी मां-बाप का इकलौता संतान था। छात्र की मौत के बाद लोगों ने स्कूल में जमकर हंगामा शुरु किया। हंगामे के दौरान परिवार वालों ने स्कूल में घुसकर तोडफ़ोड़ भी की। परिवार के लोगों ने पुलिस में क्लास टीचर के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज कराया है।

मैम से कहना, ऐसी सजा किसी को मत देना

नवनीत ने सोसाइड नोट में लिखा था “पापा, आज मेरा पहला इग्जाम है और मेरी क्लास टीचर ने मुझे सजा दी, मुझे 3 पीरियड्स तक खड़ा रखा गया, मैं रोता रहा लेकिन टीचर ने मेरी एक न सुनी। मैं अपना जीवन खत्म करने जा रहा हूं, “मैम से कहना कि ऐसी सजा कभी किसी को मत देना।’’

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार