बीआरडी मेडिकल कालेज के पूर्व प्राचार्य पत्नी सहित गये 14 दिन के लिए जेल

डीएन ब्यूरो

गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कालेज में हुई बच्चों की मौत के मामले में आज निलंबित प्रधानाचार्य की एंटी-करप्शन कोर्ट में पेशी हुई। कोर्ट ने उन्हें और उनकी पत्नी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेजने का आदेश दिया है।

14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजे गये डॉ. राजीव मिश्रा
14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजे गये डॉ. राजीव मिश्रा

गोरखपुर: बीआरडी मेडिकल कालेज में हुई त्रासदी में निलंबित प्रधानाचार्य डा. राजीव मिश्रा और उनकी पत्नी डॉ. पूर्णिमा शुक्ला की आज एंटी-करप्शन कोर्ट में पेशी हुई। इसके बाद कोर्ट ने दोनों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

यह भी पढ़ें: डाइनामाइट न्यूज़ के खबर की वजह से गोरखपुर मेडिकल कालेज का मामला बना राष्ट्रीय मुद्दा

निलंबित प्रधानाचार्य की पत्नी डा. पूर्णिमा शुक्ला

यह भी पढ़ें: योगी के शहर के मेडिकल कालेज में 30 मरीजों की सनसनीखेज मौत, खबर सबसे पहले डाइनामाइट न्यूज़ पर

अस्पताल में आक्सीजन से हुई बच्चों की मौत के बाद अस्पताल की लापरवाही जग-जाहिर हुई और फिर अस्पताल के प्रधानाचार्य को निलंबित कर दिया गया था।

यह भी पढ़ें: विपक्ष ने बनाया डाइनामाइट न्यूज़ की खबर को मुद्दा, अखिलेश यादव ने खबर की रिट्टीट

अस्पताल में अभी भी बच्चों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। लेकिन सरकार इस पर कार्यवाही करने की बजाय मौत के नये-नये विकल्प लेकर सामने आती है।

गरीब मृत बच्चों के परिवार के लिए किसी तरह के मुआवजे का कोई ऐलान नहीं, आखिर क्यों?

बीते दो-तीन दिनों में हुई मौत के लिये सरकार ने कहा कि अब बच्चों की मौत बाढ़ के कारण हुई है। बता दें कि डाइनामाइट न्यूज़ ने सबसे पहले गोरखपुर त्रासदी की खबर को प्रमुखता से लिया था। इसके बाद यह राष्ट्रीय मुद्दा बनकर उभरा।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार