फतेहपुर: सड़क हादसे में छात्र की मौत से गुस्साये लोगों ने मचाया बवाल, पत्रकारों संग मारपीट, पथराव से कई वाहन क्षतिग्रस्त

डीएन ब्यूरो

बिंदकी कोतवाली क्षेत्र में आज सुबह बाइक से कालेज जा रहे दो छात्रों को एक ट्रक ने टक्कर मार दी, जिससे एक छात्र की मौके पर ही मौत हो गई है जबकि दूसरा छात्र गंभीर रूप से घायल हो गया है। सड़क हादसे में छात्र की मौत के बाद यहां गुस्साये लोगों ने जमकर मारपीट और पथराव कर कई वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया।

घटना के बाद मौके पर मौजूद लोगों को समझाती पुलिस
घटना के बाद मौके पर मौजूद लोगों को समझाती पुलिस

फतेहपुर: बिंदकी कोतवाली क्षेत्र में आज सुबह कालेज जा रहे दो छात्रों को एक ट्रक ने टक्कर मार दी, जिससे एक छात्र की मौके पर ही मौत हो गई है और दूसरा छात्र गंभीर रूप से घायल हो गया है। इस सड़क हादसे के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने सड़क जाम कर वहां से गुजरने वाले वाहनों औऱ खड़े ट्रकों पर जमकर पथराव किया, जिससे करीब आधा दर्जन वाहन क्षति ग्रस्त हो गए। इस दौरान घटना की कवरेज करने गए पत्रकारों से भी आक्रोशित ग्रामीणों ने मारपीट की।

 

 

करना पड़ा पुलिस बल का प्रयोग

सड़क हादसे के बाद गुस्साये लोगों ने नेहरू इंटर कॉलेज के टीचर और छत्राओं से भी बदसलूकी की और स्कूल को बंद करा दिया। बवाल को बढ़ता हुआ देख मौके पर पहुँचे बिंदकी सीओ अभिषेक तिवारी और एसडीएम हरिहरराम को गुस्साये लोगों के खिलाफ पुलिस बल प्रयोग करना पड़ा, जिससे ग्रामीण और आक्रोशित हो गए। घटना में मृतक छात्र का नाम जीसान और घायल छात्र का नाम रहमान है। 

 

छात्राओं से भी बदसलूकी

ग्रामीणों ने नेहरू इंटर कालेज में घुसकर वहां पढ़ने वाले कुछ छात्रों को भी पीटा। बताया जाता है कि इस दौरान कुछ आराजक तत्वों ने कुछ छात्राओं से भी बदसलूकी की। इस घटना के बाद वहां पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं ने कालेज को बंद करवाकर छात्रों को बाहर निकाला। आस पास के थानों से भारी पुलिस फोर्स और पीएसी के पहुँचने पर मामला कुछ शांत हुआ। सड़क हादसे के बाद बिंदकी की तनावपूर्ण स्थित अब सामान्य है।

यह सड़क हादसा आज सुबह तब हुआ जब बिंदकी कस्बे के पास जिंगनी गांव के दो छात्र जीसान और रहमान मोटरसाइकिल से नेहरू इंटर कॉलेज बिंदकी जा रहे थे जहां वो 9वीं कक्षा के छात्र थे। इसी दौरान एक ट्रक की जोरदार टक्कर से बाइक सवार जीसान की मौत हो गई और रहमान गम्भीर रूप से घायल हो गया। इसके बाद क्षेत्र के लोग बेकाबू होकर उपद्रव करने पर उतारू हो गये। बड़ी मुश्किल से मामला शांत हुआ।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …