दिल्‍ली में उग्र प्रदर्शन के बाद कार्रवाई, भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर समेत 90 गिरफ्तार

डीएन ब्यूरो

भीम आर्मी के लोगों ने दिल्‍ली के गोविंदपुरी में रविदास मंदिर को हटाए जाने के खिलाफ प्रर्दशन कर दोबारा बनवाए जाने की मांग को लेकर उग्र प्रर्दशन किया। प्रदर्शन में शामिल चंद्रशेखर सहित 90 लोगों को गिरफ्तार किया है। डाइनामाइट न्‍यूज़ पर पढ़ें पूरी खबर..

उग्र प्रदर्शन में टूटी गाड़ी और चंद्रशेखर रावण
उग्र प्रदर्शन में टूटी गाड़ी और चंद्रशेखर रावण

नई दिल्‍ली: सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर डीडीए के द्वारा दिल्‍ली के तुगलकाबाद क्षेत्र में रविदास मंदिर को हटाए जाने के बाद से विरोध प्रदर्शन चालू हैं। बुधवार को भीम आर्मी के मुखिया चंद्रशेखर ने अपने समर्थकों के साथ यहां उग्र प्रदर्शन किया। इस दौरान पुलिस के साथ झड़प हुई, जिसके बाद चंद्रशेखर सहित लगभग 90 लोगों को हिरासत में ले लिया गया।

दिल्‍ली डेवलपमेंट अथॉरिटी ने अगस्‍त माह में ही तुगलकाबाद इलाके में रविदास मंदिर को तोड़ दिया था। इसी मामले में बुधवार रात को भीम आर्मी के प्रदर्शनकारी चंद्रशेखर के नेतृत्‍व में तुगलकाबाद के इलाके में घुसने की कोशिश की। करने लगे, जहां मंदिर तोड़ा गया था। उसके चारों ओर बनी दीवार को भी उन्होंने तोड़ने की कोशिश की। 

हंगामा करते लोग

इसी दौरान भीम आर्मी के समर्थकों और पुलिस के बीच रविदास मार्ग पर हिंसक झड़प हुई। दोनों ओर से चले लाठी, डंडे और पत्थरबाजी में कई आंदोलनकारी और कुछ पुलिसकर्मी घायल भी हुए हैं। जिसमें वहां खड़ी 100 से अधिक गा‍ड़ियों के शीशे टूट गए। झड़प में 15 पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं।

पथराव में टूटे कारों के शीशे 

हंगामें और तोड़फोड़ के बाद गोविंदपुरी थाना पुलिस ने भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर समेत करीब 90 लोगों को हिरासत में ले लिया। देर रात में हिरासत में तब्‍दीली करते हुए सभी लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। 

डीडीए का बयान 

वहीं डीडीए का कहना है कि उसने सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर इस ढांचे को गिराया है। जिसके बाद उसकी बाउंड्री बनवा दी गई है।

गौरतलब है बुधवार को रामलीला मैदान में आयोजित रैली में कई जगहों से लोग लाठी डंडा, सरिया आदि लेकर प्रदर्शन करने पहुंचे थे। इसी भीड़ ने देर शाम को तुगलकाबाद का रुख किया था।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार