बुरे दौर से गुज़र रहे हैं मदरसे में सेवारत आधुनिकीकरण शिक्षक

डीएन ब्यूरो

मदरसे में सेवारत आधुनिकीकरण शिक्षकों का हाल बद से बदतर होता जा रहा है। 42 माह से मानदेय न मिलने के कारण शिक्षक सबसे बुरे दौर से गुज़र रहे हैं। पूरी खबर डाइनामाइट न्यूज़ पर

फाइल फोटो
फाइल फोटो

महराजगंज: कोरोना त्रासदी में केंद्र और राज्य सरकारें कोई मदरसा शिक्षकों की सुध नही ले रही है। शिक्षक संघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष तसौवर हुसैन ने सरकार से मानदेय की भुगतान करने के मांग के साथ शिक्षकों से आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करने लॉक डाउन का पालन करने की अपील की है।

यह भी पढ़ेंः बड़ी खबर- महराजगंज जिला कोरोना मुक्त घोषित  

हुसैन ने बताया कि वर्षो से मदरसा में अध्यापन कार्य कर रहे प्रदेश के हज़ारों शिक्षकों को सरकार द्वारा 42 महीनों से मानदेय का भुगतान नही किया जा रहा है जिसके कारण ये शिक्षक पूरी तरह से भुखमरी के कगार पर पहुंच गये है परंतु केंद्र प्रदेश की सरकार ज़रा भी सुध नही ले रही है। कोरोना महामारी के इस संकट काल के दौरान पूरे मुल्क में सम्पूर्ण लॉक डाउन घोषित किया गया है। जिसके वजह से ये शिक्षक बुरे दौर से गुज़र रहे है। संगठन ने कई बार मानदेय के भुगतान के लिये सरकार से मांग कर चुकी है परंतु अभी तक कोई भी सकारात्मक उत्तर नही मिल रहा है। उन्होंने केंद्र और प्रदेश सरकार से इस विकट परिस्थितियों में शिक्षकों के मानदेय की भुगतान कि मांग की है।

 













संबंधित समाचार