बलरामपुर में सीएम योगी के सख्त आदेश, प्रशासन बाढ़ पीड़ितों के साथ न करें भेदभाव

डीएन संवाददाता

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बलरामपुर में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया और बाढ़ पीड़ितों को हर संभव मदद देने का भरोसा दिलाया।


बलरामपुरउत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज बलरामपुर में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया और बाढ़ पीड़ितों को हर संभव मदद का भरोसा दिलाया। उन्होंने बाढ़ प्रभावितों के मामले में लापरवाही बरतने और भेदभाव करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने की भी चेतावनी दी। इस दौरान उनके साथ जिले के प्रभारीमंत्री सुरेशराणा, श्रावस्ती सांसद दद्न मिश्र, सदर विधायक पल्टू राम, जिलाध्यक्ष राकेश सिंह सहित बड़ी संख्या में भाजपाई उपस्थित रहे। 

राहत व बचाव कार्य में लापरवाही बर्दास्त नहीं- सीएम योगी
सदर तहसील के स्पोर्ट स्टेडियम पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बाढ़ पीड़ितों को हर संभव मदद पहुंचाई जाए। इसमें जिला प्रशासन समाजसेवी संगठनों और स्थानीय नागरिकों की मदद ले। किसी भी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नही है। शिकायत मिलने पर अधिकारियों पर कार्यवाई की जाएंगी। 

यह भी पढ़ें: बलरामपुर: राप्ती का जलस्तर बढ़ने से एक दर्जन गांवें पर खतरा, ग्रामीणों में दहशत

यह भी पढ़ें: बलरामपुर में 400 गांव बाढ़ की चपेट में, बचाव कार्यों में जुटे समाजसेवी

अधिकारी न छोड़े जिला- सीएम योगी
मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ ने डीएम राकेश कुमार मिश्र को निर्देशित किया कि बचाव व राहत कार्य युद्ध स्तर पर होना चाहिए। किसी प्रकार की लापरवाही नही होनी चाहिए। उन्होंने यह भी कहा की बाढ़ के दौरान कोई भी अधिकारी या कर्मचारी छुट्टी पर न जायेगा। यदि कोई ऐसा करता है तो उसके विरूद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें: बलरामपुर: नेपाल से छोड़ा गया एक लाख क्यूसेक से अधिक पानी, हाई अलर्ट जारी

बचाव कार्य में कोई भेदभाव न करें अधिकारी -सीएम योगी
योगी आदित्यनाथ ने डीएम को निर्देशित करते हुए कहा कि राहत व बचाव कार्य में कोई भेदभाव नही होना चाहिए। सभी को एक समान राहत मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार बाढ़ पीड़ितों के साथ है और संभव सहायता सरकार द्वारा दी जाएगी। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …