भैया दूज पर इस शुभ मुहूर्त में करें टीका, होगी लंबी उम्र और उज्ज्वल भविष्य

डीएन ब्यूरो

भैया दूज का त्योहार पूरे देश में आज बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। भैया दूज पर बहनें भाइयों को तिलक लगाकर दीर्घायु और यशस्वी होने की कामना करती हैं और भाई रक्षा का वचन देते हैं। डाइनामाइट न्यूज़ की इस रिपोर्ट में पढ़ियें कब है भैया दूज का शुभ मुहूर्त।

फाइल फोटो
फाइल फोटो

नई दिल्ली: भाई दूज का त्योहार पूरे देश में आज बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। भैया दूज पर बहनें भाइयों को तिलक लगाकर दीर्घायु और यशस्वी होने की कामना करती हैं और भाई रक्षा का वचन देते हैं। 

ज्योतिष की माने तो पौराणिक प्रसंग के अनुसार भैयादूज का पर्व यमराज (काल) और उनकी बहन यमुना के स्नेह का प्रतीक है। यमराज सूर्य के पुत्र और शनि के भाई हैं। इस दिन वह यमलोक छोड़कर बहन यमुना से मिलने यमनोत्री पहुंचते हैं। इसीलिए इस पावन मौके पर यमलोक के द्वार बंद रहते हैं। इस पर्व को हर साल कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितिया  तिथि के दिन मनाया जाता है।

धर्म ग्रंथों के अनुसार, इस दिन यमुना ने अपने भाई यम को घर पर आमंत्रित किया था और स्वागत सत्कार के साथ टीका लगाया था तभी से यह त्योहार मनाया जाता है। इस पर्व को यम द्वितीया के नाम से भी जाना जाता है।

भैया दूज का शुभ मुहूर्त 

भैया दूज मनाने का शुभ मुहूर्त 1.08 बजे से शाम 4.36 मिनट तक है।

तिलक करते समय पढ़े ये मंत्र

गंगा पूजा यमुना को, यमी पूजे यमराज को
सुभद्रा पूजे कृष्ण को गंगा यमुना नीर बहे मेरे भाई आप बढ़ें फूले फलें

 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार