बलरामपुर: धूमधाम से मनायी गयी परशुराम जयंती, सामूहिक अवकाश न होने पर जतायी नाराजगी

डीएन संवाददाता

गायन-वादन के साथ आज भगवान परशुराम का जन्मोत्सव मनाया गया। इस अवसर पर लोगों ने भगवान परशुराम के जन्मोत्सव पर सामूहिक अवकाश न होने नाराजगी जतायी। पूरी खबर..

परशुराम जन्मोत्सव पर मौजूद लोग
परशुराम जन्मोत्सव पर मौजूद लोग

बलरामपुर: ग्राम धुसाह में रासबिहारी शुक्ल के आवास राज भवन पर गायन वादन के साथ भगवान परशुराम का जन्मोत्सव मनाया गया। इस अवसर पर अरुण कुमार मिश्र समेत कई लोगों ने भगवान परशुराम के जन्मोत्सव पर सामूहिक अवकाश न होने नाराजगी जतायी गयी। उन्होंने कहा कि इससे महोत्सव मनाने में असुविधा हुई है।

डॉ तुलसीश दुबे ने कहा कि भगवान परशुराम ने प्रजा द्रोही, अधर्मी राजाओं को दण्डित किया। राजा जनक जैसे धर्मनिष्ठ राजाओं पर विशेष कृपा की। भगवान परशुराम सुशासन के प्रबल समर्थक थे। रघुनाथ शुक्ल ने कार्यक्रम का संचालन करते हुए भगवान परशुराम के जीवनी पर प्रकाश डाला।

इस कार्यक्रम में कृष्ण लाल मिश्रा, मंगल बाबू, राम नरेश त्रिपाठी,  बब्बल पाण्डेय, नीता तिवारी,  किरन पाण्डेय, गीता तिवारी, पंकज पाण्डेय, अरुण त्रिपाठी,  शिव कुमार मिश्र, डॉ नितिन शर्मा, अम्बरीष शुक्ल,  हैप्पी मिश्रा, डब्लू पाण्डेय, भानू प्रकाश तिवारी सहित अखिल भारतीय ब्राह्मण जन कल्याण समिति तथा ब्रम्होत्कर्ष समूह के पदाधिकारी व प्रमुख सदस्यगण उपस्थित रहे।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार