लखनऊ: निगमीकरण और निजीकरण के खिलाफ ऑल इंडिया रेलवे मेन्स यूनियन ने सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

डीएन ब्यूरो

निगमीकरण और प्राइवेट हाथों में ट्रेनों का संचालन दिए जाने को लेकर ऑल इंडिया रेलवे मेन्स यूनियन (All India Railwaymen's Federation) ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोला है। इस दौरान उन्होनें 1 जुलाई के दिन काला दिवस मनाया है। जिस दौरान वो हाथों में काली पट्टी बांध कर अपना विरोध जताएंगे। पढ़े डाइनामाइट न्यूज़ की खास खबर..


लखनऊ: रेलवे के निजीकरण के खिलाफ ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन ने सरकार के खिलाफ मोर्चा निकाला है। उत्पादन इकाइयों के निगमीकरण का रेलवे कर्मचारी विरोध कर रहे हैं। लखनऊ रेल मंडल में आज एक जुलाई को रेल के कर्मचारी ने काला दिवस मनाया है।

यह भी पढ़ें: 17 जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल करने पर मायावती ने साधा निशाना, कहा-धोखा दे रही सरकार

रेलवे कर्मचारी ये काला दिवस 1 जुलाई से लेकर 6 जुलाई तक मनाएंगे। इस काला दिवस के दौरान वो अपनी बाहों में काली पट्टी बांध कर रखेंगे। साथ ही इस बारे में शाखा स्तर पर मीटिंग करके मंत्रालय ने नाम ज्ञापन सौंपेगे।

यह भी पढ़ें: महराजगंज: आज से खुलेंगे सरकारी और निजी स्कूल, पहला दिन रहा शिक्षा के प्रति जागरूकता के नाम

रेलवे यूनियन ने चेतावनी दी है कि अगर जल्दी ही रेलवे बोर्ड ने निगमीकरण के आदेश को वापस नहीं लिया, तो आंदोलन को और धार दिया जाएगा। 6 जुलाई से कर्मचारी जनजागरण अभियान कर विरोध जताएंगे ।


 













संबंधित समाचार