कानपुर में बेसिक शिक्षा को लेकर अपर मुख्य सचिव ने की मण्डलीय बैठक

डीएन संवाददाता

अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा राज प्रताप सिंह ने बेसिक शिक्षा विभाग के कानपुर मण्डल के अधिकारियों के साथ सर्किट हाउस में समीक्षा बैठक की।

अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा राज प्रताप सिंह अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करते हुए
अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा राज प्रताप सिंह अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करते हुए

कानपुर: बेसिक शिक्षा विभाग के कानपुर मण्डल के अधिकारियों के साथ अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा राज प्रताप सिंह ने सर्किट हाउस में समीक्षा बैठक की। इस दौरान जिलाधिकारी सुरेंद्र सिंह समेत आलाधिकारी मौजूद रहे। अपर मुख्य सचिव ने इस बैठक में मण्डलीय अधिकारियों को कई कड़े निर्देश भी दिए।

क्या कहना है अपर मुख्य सचिव का

बेसिक शिक्षा को लेकर अपर मुख्य सचिव ने बताया कि समीक्षा बैठक का उद्देश्य बेसिक शिक्षा में बच्चों के लिए सुविधाओं को देखना है। जुलाई माह से परिषदीय स्कूल प्रारंभ होंगे। जिसकी व्यवस्था को लेकर बैठक में चर्चा हुई। अब 6 से 14 साल तक के बच्चों का परिषदीय स्कूलों में आधार बनाकर नामंकन किया जाएगा। जिसके लिए प्रदेश में अभियान भी चलाया गया है। उन्होंने बताया कि किस तरह की व्यवस्थाएं पूरी हो गयी है या होना बाकी है जिसको लेकर बैठक की गई। जिसमें पाठ्य पुस्तकों के वितरण, बच्चों की ड्रेस, मिड-डे मील, विद्यालयों में शिक्षकों की उपस्थिति और अन्य अनियमितताओं को लेकर अधिकारियों से बातचीत की गई।

जिलाधिकारी की अध्यक्षता में कैम्प बनाकर योजनाबद्ध तरीके से जल्द से जल्द काम को पूरा किया जाएगा। शिक्षकों की भी ऑनलाइन डाटा एंट्री की जाएगी जिससे सरकार के पास हर शिक्षक की जानकारी होगी। बगैर मान्यता प्राप्त स्कूलों पर बोलते हुए मुख्य सचिव ने कहा कि बेसिक शिक्षा अधिकारी को इस पर सख्त कार्यवाई करनी चाहिए। प्रदेश में ज्यादा से ज्यादा स्कूल खुलना बढ़िया कदम है इससे फीस में भी नियंत्रण आएगा। मानक के विपरीत खुले हुए स्कूलों पर कहा कि इसके लिए राज्य स्तर पर इस विषय पर बात चल रही है जल्द ही इसे ठीक किया जाएगा।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार