खुलासों से तहलका मचाने वाले विकीलीक्स संस्‍थापक असांजे लंदन में गिरफ्तार

डीएन ब्यूरो

स्वीडन में प्रत्यर्पित किए जाने से बचने के लिए असांजे ने काफी समय से इक्‍वाडोर दूतावास को अपना ठिकाना बना रखा था। लंदन की ​मेट्रोपोलिटन पुलिस ने कहा कि फिलहाल असांजे को हिरासत में लिया गया है और उन्हें वेस्टमिन्सटर मजिस्ट्रेट कोर्ट के समक्ष पेश किया जाएगा।

जूलियन असांजे
जूलियन असांजे

लंदन: विकिलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे को लंदन स्थित इक्वाडोर दूतावास से गिरफ्तार कर लिया गया। असांजे को ब्रिटिश पुलिस ने गुरुवार को गिरफ्तार किया है।

इक्वाडोर ने अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लंघन करते हुए जूलियन असांजे को राजनीतिक शरण देने को अवैध करार दिया है। उन्हें ब्रिटिश पुलिस ने इक्वाडोरियन दूतावास से गिरफ्तार किया। जूलियन असांज को दूतावास से बाहर निकाल लिया गया है। इक्वाडोर के राजदूत ने ब्रिटिश पुलिस को दूतावास में बुलाया और इसके बाद पुलिस ने जूलियन असांजे को गिरफ्तार कर लिया गया।

गोपनीय दस्तावेजों को सार्वजिनक का आरोप

असांज के खिलाफ वर्ष 2012 में ही गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था। वारंट जारी करने से पहले असांजे को आत्मसमर्पण करने को कहा गया था। 47 साल के जूलियन असांजे गोपनीय दस्तावेजों को सार्वजिनक का आरोप है।

2012 से इक्वाडोर दूतावास में लिए हुए थे शरण

गौरतलब है कि असांजे ने 2010 में बड़ी संख्या में अमेरिकी गोपनीय दस्तावेजों को सार्वजनिक किया था। असांजे ने स्वीडन में प्रत्यर्पण से बचने के लिए 2012 में इक्वाडोर के दूतावास में शरण ली थी। बाद में स्वीडन ने असांजे पर से सेक्स अपराध से जुड़े मामले को हटा दिया। बीते साल 12 दिसंबर को उन्हें इक्वाडोर की नागरिकता मिली थी।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …