काशी की सड़कों पर कृष्ण रूप में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव

डीएन संवाददाता

देश की धार्मिक और आध्यात्मिक नगरी काशी की सड़कों पर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को कृष्ण के रूप में देखकर लोग हैरान है और अखिलेश का यह रूप हर किसी को लुभा रहा है। डाइनामाइट न्यूज़ की इस एक्सक्लूसिव रिपोर्ट में पढ़ें अखिलेश की कृष्ण रूप की पूरी कहानी..

वाराणसी: धार्मिक नगरी काशी की सड़कें गुरूवार सुबह से ही बदली-बदली नजर आ रही है। कई सड़कों के बीचोंबीच स्थित बिजली के खंभों पर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की लंबी-लंबी होर्डिंग्स लगी हुई है। इन होर्डिंग्स पर अखिलेश यादव कृष्ण के रूप में नजर आ रहे हैं। सड़क पर गुजरते जिस भी व्यक्ति की नजर इन होर्डिंग्स पर पड़ रही है, उसके पांव वहीं थमते नजर आ रहे है। कृष्ण के रूप में अखिलेश यादव के यह चित्र हर किसी को लुभा रहे हैं।

कृष्णावतार में अखिलेश यादव

 

दरअसल, काशी की सड़कों पर यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव की कृष्णावतार वाली ये होर्डिंग्स गोवर्धन पूजा के खास मौके पर सपा कार्यकर्ताओं द्वारा लगायी गयी है। अखिलेश इस पूजा में शामिल होने के लिये खुद काशी पहुंच रहे हैं और उनके स्वागत के लिये कार्यकर्ताओं ने इस तरह की होर्डिंग्स लगवाई है, ताकि अखिलेश जनता को और वे अपने नेता अखिलेश को लुभा सकें।

 

 

समाजवादी पार्टी की स्टूडेंट विंग समाजवादी छात्र सभा के प्रदेश सचिव मनोज यादव ने इस मौके पर डाइनामाइट न्यूज़ से बातचीत में कहा कि गोवर्धन पूजा यदुवंशियों के लिए एक खास मौका और सबसे बड़ी पूजा होती है और अखिलेश यादव यदुवंशियों का प्रतिनिधित्व करते हैं। इसलिये इस खास मौके पर हमने अपने नेता को कृष्ण के रूप में दर्शाया है औऱ काशी की सरजमीं पर उनका इस तरीके से स्वागत करने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि हम यदुवंशी अपने नेता अखिलेश को इस रूप में भी देखते हैं, इसलिये उनकी इस तरह की प्रतिमा बनाई गयी है।   

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)