लखनऊ में ट्रैफिक व्यवस्था का हुआ बुरा हाल, पूर्व सीएम अखिलेश यादव 15 मिनट तक फंसे जाम में..

जय प्रकाश पाठक

एक तरफ रोज यूपी की कानून-व्यवस्था और यातायात को चुस्त दुरुस्त करने का दावा सरकारी नुमाइंदे करते हैं तो वहीं दूसरी तरफ यातायात व्यवस्था की पोल राजधानी लखनऊ में ही खुल जा रही है। यातायात का ये हाल है कि सड़कों पर कई घंटों तक जाम लगा रहता है। वीआईपी भी आये दिन कुव्यवस्था का शिकार हो रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव तकरीबन 15 मिनट तक मंगलवार को जाम में फंसे रहे। डाइनामाइट न्यूज़ की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट..


लखनऊ: राजधानी के व्यस्ततम चौराहे पर जिला प्रशासन ने ई-रिक्शा के चलने पर रोक लगा दी है। इसे लेकर ई-रिक्शा चालकों में भारी आक्रोश व्याप्त है। गुस्साये ई-रिक्शा चालकों ने इस बारे में आज यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मिलकर इंसाफ की गुहार लगाई है।

 

विक्रमादित्य मार्ग पर 15 मिनट तक जाम में फंसे रहे अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव जब सपा दफ्तर से बैठक करके निकल रहे थे तो उनका काफिला लोरेटो स्कूल के बाहर बड़ी तादाद में खड़ी गाड़ियों और विरोध स्वरूप खड़े किये गए कई ई-रिक्शों के बीच फंस गया। जिसे हटाने के लिए अखिलेश यादव के सुरक्षाकर्मियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी फिर जाके तकरीबन 15 मिनट बाद जाम हटा।  इसके बाद अखिलेश यादव का काफिला यहां से निकला।       

 

लखनऊ में ई-रिक्शा बना जाम का बड़ा कारण

राजधानी लखनऊ में जगह-जगह बड़ी संख्या में चलने वाले ई-रिक्शों की वजह से लोगों को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। इसी को देखते हुए लखनऊ जिला प्रशासन ने शहर के व्यस्त चौराहों से ई-रिक्शा चालकों को चलने पर रोक लगा दी है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …