संयुक्त राष्ट्र एजेंसी: यमन भूख की कगार पर

डीएन ब्यूरो

विश्व खाद्य कार्यक्रम (डब्ल्यूएफपी) की कार्यकारी निदेशक अर्थरिन कजिन ने सोमवार को चेतावनी दी कि युद्धग्रस्त यमन के सर्वाधिक खाद्य असुरक्षा वाले इलाकों में परिवार भूख से मरने की कगार पर हैं।

डब्ल्यूएफपी - कार्यकारी निदेशक
डब्ल्यूएफपी - कार्यकारी निदेशक

संयुक्त राष्ट्र: विश्व खाद्य कार्यक्रम (डब्ल्यूएफपी) की कार्यकारी निदेशक अर्थरिन कजिन ने सोमवार को चेतावनी दी कि युद्धग्रस्त यमन के सर्वाधिक खाद्य असुरक्षा वाले इलाकों में परिवार भूख से मरने की कगार पर हैं।
संयुक्त राष्ट्र अधिकारियों ने कहा कि कजिन अदन और सना की तीन दिवसीय यात्रा पर हैं। उन्होंने अपने बच्चों को भोजन मुहैया कराने के लिए संघर्ष कर रहे परिवारों से मुलाकात की और पोषण केंद्रों तथा स्वास्थ्य केंद्रों का दौरा किया।

यमन

कजिन ने कहा, "अगर हम खाद्य असुरक्षा के गंभीर संकट से जूझ रहे लोगों को सहायता उपलब्ध नहीं करा पाएंगे तो भुखमरी से बेहद प्रभावित दुर्गम इलाकों में अकाल जैसी स्थिति पैदा हो जाएगी और लोग मौत के मुंह में चले जाएंगे।"

संयुक्त राष्ट्र खाद्य राहत एजेंसी सभी 70 लाख जरूरतमंदों तक पहुंचना चाहती है, लेकिन उसे इसके लिए करीब 46 करोड़ अमेरिकी डॉलर और समुद्र तथा भूमि मार्ग से पहुंच की तत्काल जरूरत है।  (आईएएनएस)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …