पत्थरबाजों पर पहली बार आर्मी चीफ ने दिया बड़ा बयान, बोले- हथियार चलाएं तब बताऊंगा..

डीएन ब्यूरो

कश्मीर घाटी में भारतीय सेना पर हो रहे पथराव की घटनाओं और कश्मीरी युवक को जीप में बांधने के मामले को लेकर सेना प्रमुख बिपिन रावत ने बड़ा बयान दिया है।

आर्मी चीफ  बिपिन रावत
आर्मी चीफ बिपिन रावत

नई दिल्ली: पिछले काफी लंबे समय से कश्मीर और बॉर्डर पर लगातार तनाव की स्थिति बनी हुई है। घाटी में पत्थरबाजों का एक्शन हो या फिर अलगाववादियों का लगातार पाकिस्तान की मदद से हिंसा भड़काना, लगातार ऐसी घटनाएं बढ़ती ही जा रही है। इस बीच सेना प्रमुख बिपिन रावत ने घाटी में पत्थर बरसाने वालों को सीधी चुनौती दी है उन्होंने कहा कि वे लोग हम पर पत्थर बरसाने के बजाय गोलियां चलाये ताकि जो मैं करना चाहूं वो कर सकूं।

 

रावत ने कहा कि जब लोग जब हम पर पथराव कर रहे हों और पेट्रोल बम फेंक रहे हों मैं अपने जवानों से केवल इंतजार करने और मरने के लिए नहीं कह सकता। सेना प्रमुख ने कश्मीरी युवक को जीप पर बांध मानव ढाल की उपयोग करने की घटना का बचाव किया उन्होंने कहा कि कश्मीर में प्रॉक्सी वॉर से निपटने के लिए सैनिकों को नये तरीके अपनाने पड़ते है।

 

 

जम्मू कश्मीर में लंबे समय तक काम कर चुके जनरल रावत ने कहा कि किसी भी देश में लोगों में सेना का भय खत्म होने पर देश का विनाश हो जाता है। कश्मीर के आतंकवादियों और अलगाववादियों को चेतावनी देते हुए सेना प्रमुख ने कहा कि आर्मी से डरना अच्छी बात है। अगर सेना का डर खत्म हो जाए तो ये देश के लिए अच्छा नहीं है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …