श्रीलंका में हुए आतंकी हमले के बाद चेहरा ढ़कने पर प्रतिबंध

डीएन ब्यूरो

श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना ने देश में श्रृंखलाबद्ध घातक बम विस्फोट की घटनाओं के बाद चेहरा ढकने पर प्रतिबंध लगाने वाले एक आदेश पर हस्ताक्षर किए। श्रीलंका सरकार के इस फैसले का असर बुर्का और नकाब पहनने वाली महिलाओं पर भी पड़ेगा। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट

फाइल फोटो
फाइल फोटो

कोलंबो: श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना ने देश में श्रृंखलाबद्ध घातक बम विस्फोट की घटनाओं के बाद रविवार को चेहरा ढकने पर प्रतिबंध लगाने वाले एक आदेश पर हस्ताक्षर किए। स्थानीय मीडिया ने यह जानकारी दी।

 

खबरों के मुताबिक यह निर्णय सुरक्षा कारणों से लिया गया साथ ही साथ कानून प्रवर्तन एजेंसियों के काम को भी सरल बनाने के लिए किया गया। प्रतिबंध 29 अप्रैल से प्रभावी होगा। ईस्टर के अवसर पर श्रीलंका में घातक श्रृंखलाबद्ध विस्फोटों की घटना में सैकड़ों लोग मारे गए और घायल हुए। इसके बाद गत शुक्रवार को तीन अन्य विस्फोटों से देश का पूर्वी शहर कलमुनाई दहल उठा। श्रीलंका ने अगले नोटिस तक अपने पूर्वी हिस्से में कर्फ्यू लगा दिया।आतंकवादी समूह इस्लामिक स्टेट(रूस में प्रतिबंधित) ने कथित तौर पर हमलों की जिम्मेदारी ली थी।

श्रीलंका में हमलों के तुरंत बाद आपराधिक जांच शुरू करके 100 से अधिक संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया।अभियोजकों के अनुसार नौ आत्मघाती हमलावरों ने आतंकवादी हमलों को अंजाम दिया और उनमें से आठ की पहचान पहले ही हो चुकी है। (वार्ता)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …