देखिये..पत्रकारों से बातचीत में अखिलेश यादव ने क्या-क्या कहा..

डीएन संवाददाता

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कुशीनगर के रामकोला में पत्रकारों से बातचीत में कई महत्वपूर्ण बातें कहीं।


कुशीनगर: कर्नाटक की पत्रकार गोरी लंकेश की हत्या एक शर्मनाक घटना है। सभ्य समाज में इस तरह की हरकतों की कोई जगह नही है। यह कहना है समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का। वे आज दोपहर कुशीनगर जिले के रामकोला कस्बे में आयोजित 25वें किसान शहीद दिवस के मौके पर विशाल रैली को संबोधित करने के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।  

यह भी पढ़ें: कुशीनगर के रामकोला से अखिलेश यादव LIVE

 

उप चुनाव में भाजपा को जनता सिखायेगी सबक

अखिलेश ने कहा कि गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा के उपचुनाव में राज्य की जनता भाजपा को सबक सिखाने का काम करेगी।

 

 

योगी ने खुद माना डायल 100 में हैं भ्रष्टाचार

पूर्व सीएम ने कहा कि भाजपा भ्रष्टाचार मुक्त सरकार का दावा करती है, यह कितना सच है इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि सीएम योगी ने खुद माना है कि डायल 100 में जमकर भ्रष्टाचार का बोलबाला है।

 

 

समाजवादियों के दिल में हमेशा जिंदा रहेगा रामकोला कांड

सपा प्रमुख ने इस बात को दोहराया कि रामकोला को किसान शहीद कांड किसानों के संघर्ष की निशानी है औऱ यह हमेशा समाजवादियों के दिलों में जिंदा रहेगा।

क्या है इस आयोजन का इतिहास

कुशीनगर जिले के रामकोला में 25वें वर्ष शहीद किसान दिवस का आयोजन किया जा रहा है। इतिहास के पन्ने पलटें तो वर्ष 1992 में चीनी मिल गेट पर भीषण गन्ना आंदोलन हुआ। इस दौरान पुलिस से हुए संघर्ष में दो किसान पड़ोही हरिजन और जमादार मियां शहीद हो गये। इसके बाद से हर साल समाजवादी पार्टी इन किसानों की शहादत को जीवंत रखने के लिए 10 सितंबर को एक विशाल जनसभा करती है।

कौन-कौन रहा मौजूद

इस रैली का आयोजन पूर्व मंत्री राधेश्याम सिंह ने किया है। रैली में सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल, नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी, सपा के प्रवक्ता और पूर्व मंत्री राजेन्द्र प्रसाद चौधरी, पूर्व मंत्री और उत्तर प्रदेश आवास एवं विकास परिषद के पूर्व उपाध्यक्ष सुशील कुमार टिबड़ेवाल,सांसद नीरज पटेल, किरणमय नंदा, एमएलसी सुनील साजन, पूर्व मंत्री ब्रम्हाशंकर त्रिपाठी, पूर्व सांसद बालेश्वर यादव सहित आसपास के जिले से बड़ी संख्या में सपा नेता और कार्यकर्ता मौजूद रहे।  

 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार