राजस्थान: अब केवल आर-पार, सचिन पायलट की खुली बगावत के बाद अशोक गहलोत का ये है अगला कदम

डीएन ब्यूरो

राजस्थान में उठा सियासी तूफान अब अपने चरम पर पहुंच गया है। सचिन पायलट के बगावती तैवर जारी हैं। सीएम अशोक गहलोत थोड़ी देर में बैठक करने वाले हैं। जानिये, हर ताजा अपडेट डाइनामाइट न्यूज़ पर

सचिन पायलट औरअशोक गहलोत (फाइल फोटो)
सचिन पायलट औरअशोक गहलोत (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: राजस्थान में उठा सियासी तूफान अब अपने चरम पर पहुंच गया है। उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के बागी तेवरों के कारण राजस्थान प्रदेश कांग्रेस और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अगुवाई वाली सरकार पर संकट बढता जा रहा है। इस सियायी ड्रामें में तबसे और भी ट्विस्ट और आ गया है, जबसे सचिन पायलट ने यह दावा किया है कि उनके पास लगभग 30 विधायक हैं और सभी उनके साथ जयपुर से बाहर हैं। 

राजस्थान सरकार पर छाये संकट के बादलों के बीच अबसे थोड़ी देर बाद कांग्रेस विधायक दल की बैठक होने वाली है।  

सचिन पायलट यह बात पहले ही कर चुके हैं कि अशोक गहलौत की सरकार संकट में है। सीएम अशोक गहलोत अपनी सरकार बचाने में जी-जान से जुटे हुए हैं और वे अपने गुट के विधायकों और मंत्रियों को इकट्ठा कर रहे हैं। अबसे थोड़ी देर बाद जयपुर में कांग्रेस के विधायक दल की बैठक होनी। जिसके बाद इस सियासी रण की तस्वीर पूरी तरह साफ होने की संभावना है।

हालांकि, इस बीच कांग्रेस के विधायक महेन्द्र चौधरी ने दावा किया कि उनके सभी विधायक सीएम अशोक गहलौत के साथ है और सभी पार्टी की गोने वाली विधायक दल की बैठक में हिस्सा लेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा अपने लक्ष्यों में सफल नहीं हो सकेगी।

थोड़ी देर में होने वाली बैठक के लिये कांग्रेस ने विप भी जारी किया है। इसमें सभी विधायकों को सुबह 10.30 बजे सीएम अशोक गहलोत के निवास पर पहुंचने को भी कहा गया है। लेकिन बताया जाता है कि इसके बावजूद भी सचिन पायलट पार्टी की इस बैठक में शामिल नहीं होंगे। सचिन के पार्टी बैठक में शामिल न होने से कांग्रेस का अंतर्कलह भी खुलकर सामने आ सकता है, जो गहलौत सरकार को और ज्यादा संकट में डाल सकती है।

गहलौत सरकरा पर गहराते संकट के बीच कल कल देर शाम कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अविनाश पांडे ने देर रात प्रेस कॉन्फ्रेंस कर राजस्थान में सत्ता पलट की अटकलों को खारिज कर दिया था। उन्होंने आज सुबह 10 से 11 के बीच होने वाली कांग्रेस विधायक दल की बैठक के लिए कांग्रेस विधायकों को व्हिप जारी कर दिया गया है।

पांडे ने साफ किया है कि अगर किसी विधायक ने व्हिप का उल्लंघन किया तो उस पर अनुशासात्मक कार्रवाई की जाएगी। लेकिन बताया जा रहा है कि इस चेतावनी के बाद भी सचिन पायलट समेत उनके खेमे के कुछ विधायक इस बैठक में शामिल नहीं होंगे। 













संबंधित समाचार