महराजगंज में सूखा लेकिन निचलौल क्षेत्र में जमकर बरसे ओले

डीएन संवाददाता

मौसम के मिजाज बदलने की चेतावनी से आशंकित किसानों को यह भी उम्मीद थी कि मौसम की मेहरबानी से जिले में बारिश के कारण उनको कुछ राहत मिल सकती है। किसानों की यह उम्मीद भले ही पूरी न हुई हो, लेकिन जिले के ही निचलौल क्षेत्र के कुछ गांवों में मंगलवार-बुधवार की रात जमकर ओले पड़ने से ग्रामीण आश्चर्य में पड़ गये। पूरी खबर..

निचलौल क्षेत्र के खोन्नोली गांव में गिले ओलों की तस्वीर
निचलौल क्षेत्र के खोन्नोली गांव में गिले ओलों की तस्वीर

महराजगंज: मौसम विभाग ने चेतावनी जारी कर कई जिलों में तेज आंधी-तूफान और औलावृष्टि की संभावना जतायी थी। जिले में आते-जाते बादलों को देखकर किसानों को उम्मीद थी कि शायद मौसम की मेहरबानी से बारिश होगी और पानी मांग रही फसलों की प्यास बुझ सकेगी। जिले के किसानों की बारिश की यह आस तो पूरी नहीं हुई लेकिन निचलौल क्षेत्र के खोन्नोली गांव और इसके आस-पास के लगभग 5 किमी की परिधि में बीती रात जमकर ओले पड़ने से लोग हैरान रह गये।

 

जिले के निचलौल के खोन्नोली गांव और इसके आस-पास मंगलवार की रात 11.35 बजे जमकर ओलावृष्टि हुई। रात को अचानक ओले गिरने से लोग हैरान हो गया और घरों से बाहर आने लगे।

ग्रामीणों ने बर्तन में समेटें ओले 

ग्रामीणों को उम्मीद थी कि ओले गिरने के बाद संभवत: बारिश हो सकती है, जिससे उनकी साग-सब्जी व फसल मुरझाने से बच सकती है, लेकिन बारिश न होने से उनके चेहरे फिर उदास हो गये। ओलावृष्ठि के समेय कई क्षेत्रों बिजली की आपूर्ति भी ठप रही।

गिरे ओले 

हालांकि ओले गिरने से क्षेत्र के तापमान में गिरावट के कारण क्षेत्र के ग्रमीणों को उमस और गर्मी से थोड़ी देर के लिये राहत जरूर मिली। 

 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …