महराजगंज: कीटनाशक खाकर युवक की मौत, जलती चिता को बुझाकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा गया शव

डीएन संवाददाता

मृतक युवक का जैसे ही अंतिम दाह संस्कार किया जा रहा था वैसे ही उसके ससुराल पक्ष के लोग वहां पहुंच गये। उन्होंने जलती चिता को बुझाया और मामले की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने मामले को संदिग्ध मानते हुए शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया।


महराजगंज: पनियरा थाना के अंतर्गत ग्राम सभा मनोहर चक में निवासी एक युवक की मौत कीटनाशक दवा के प्रभाव के कारण हो गयी। इसके बाद मृतक के परिजन अंतिम संस्कार के लिए उसके शव को शमशान घाट ले गए। दाह संस्कार के दौरान शमशान घाट में जब चिता जल रही थी उसी समय वहां अचानक मृतक के ससुराल पक्ष के लोग आ गए और उन्होंने जलती चिता को बुझा दिया। ससुराल पक्ष के लोगों ने 100 नंबर कॉल कर पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने चिता से अधजली लाश निकालकर अपने कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

जानकारी के मुताबिक मृतक युवक अपनी सब्जी की खेती में शुक्रवार को कीटनाशक की दवा के छिड़काव के लिए गया। उसने कीटनाशक दवा की शीशी का ढक्कन मुंह से खोला तथा घोल बनाकर दवा का छिड़काव किया। कुछ समय बाद युवक की तबीयत बिगड़ने लगी। उसने इसकी जानकारी अपनी मां को दी। जिसके बाद उसे आनन-फानन में एक प्राइवेट अस्पताल में ले जाया गया। प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टर ने युवक को घर जाने के लिए कह दिया। लेकिन दिन में उसकी तबीयत और बिगड़ गई, जिसके कुछ देर बाद ही उसने घर पर दम तोड़ दिया। 
मृतक युवक का जैसे ही अंतिम दाह संस्कार किया जा रहा था वैसे ही उसे ससुराल पक्ष के लोग वहां पहुंच गये। उन्होंने जलती चिता को बुझाया और मामले की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने मामले को संदिग्ध मानते हुए शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया।

बताते चलें कि मृत युवकी की शादी इसी साल 19 अप्रैल को राजपुर लोनिया गांव की युवती से हुई थी। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …