लखनऊ: शारीरिक शिक्षक उम्मीदवारों ने किया भाजपा ऑफिस का घेराव

डीएन ब्यूरो

राजधानी में शारीरिक शिक्षक पद के उम्मीदवारों ने भर्ती पर लगी रोक हटाने को लेकर भाजपा ऑफिस का घेराव कर तीव्र विरोध प्रदर्शन किया। पुलिस को उन्हें कंट्रोल करने में काफी मशक्कत करनी पड़ी।


लखनऊ: भर्ती पर लगी रोक हटाने को लेकर शारीरिक शिक्षक पद के उम्मीदवारों ने भाजपा ऑफिस का घेराव कर तीव्र विरोध-प्रदर्शन किया। पुलिस को उन्हें कंट्रोल करने में काफी मशक्कत करनी पड़ी। इसके बाद भी बिना किसी ठोस आश्वासन के शारीरिक शिक्षक उम्मीदवार भाजपा ऑफिस गेट से हटने को राजी नहीं हुए। 

बीपीएड संघर्ष मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष धीरेंद्र यादव ने बताया कि 2016 में लगभग 32  हजार पदों पर शारीरिक शिक्षकों और खेल अनुदेशकों के पदों को भरने को लेकर विज्ञापन जारी किया गया था। जिस पर योगी सरकार ने सत्ता में आने के बाद रोक लगा दी और उसके बाद से इस बाबत योगी सरकार की ओर से कोई ठोस फैसला नहीं लिया गया। 
शारीरिक शिक्षक पद के उम्मीदवारों में योगी सरकार के इस रवैया से भारी निराशा और असंतोष है। आज उन्होंने अपनी भर्ती पर लगी रोक को हटाने को लेकर भाजपा ऑफिस के बाहर घेराव कर प्रदर्शन किया। 

 

वहीं बीपीएड संघर्ष मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष धीरेंद्र यादव ने बताया कि यदि योगी सरकार भर्ती पर रोक लगी रोक हटाने के बाबत कोई निर्णय नहीं लेती है तो शारीरिक शिक्षक उम्मीदवार आत्मदाह जैसा कदम भी उठा सकते हैं। जिसकी पूरी जिम्मेदारी भाजपा सरकार की होगी।

भाजपा आफिस का घेराव करने आये उम्मीदवारों का कहना हैं कि राजनीतिक द्वेष के चलते योगी सरकार ने भर्ती की समीक्षा के नाम पर 23 मार्च 2017 को रोक लगा दी थी। जिसके विषय में हम लोगों ने कई बार मुख्यमंत्री से मुलाकात की। लेकिन उसके बाद भी कोई हल नहीं निकला। उम्मीदवारों का कहना है कि कोर्ट के आदेश के बाद भी सरकार इस ओर ध्यान नही दे रही है। उम्मीदवारों का कहना है कि वे लोग यहां से तभी हटेंगे, जब उन्हें नियुक्त पत्र देने के बाबत कोई ठोस आश्वासन दिया जायेगा। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार