UP STF की कामयाबी, डॉक्टर का अपहरण कर मांगी 5 करोड़ की फिरौती, हुये गिरफ्तार

डीएन ब्यूरो

यूपी एसटीएफ को आज बड़ी कामयाबी मिली है। 6 जुलाई को दिल्ली से डॉक्टर का अपहरण करने और 5 करोड़ मांगने वालों को पुलिस ने मेरठ से धर दबोचा।

गिरफ्तार आरोपी
गिरफ्तार आरोपी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश एसटीएफ के आईजी अमिताभ यश के निर्देशन में उनकी टीम ने दिल्ली के डॉ. श्रीकांत गौड़ का अपहरण करने और 5 करोड़ की फिरौती मांगने वाले बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार किये गये आरोपियों में दो सगे भाई सुशील और अनुज हैं, जबकि अन्य की तलाश जारी है। एसटीएफ की टीम ने इन आरोपियों को मेरठ से गिरफ्तार किया और उनके कब्जे से 2 तमंचे, 4 कारतूस और नगदी बरामद की। पुलिस ने उनकी गिरफ्तारी पर 50-50 हजार रूपए का इनाम भी रखा था।

पूछताछ में आरोपियों ने एसटीएफ को बताया कि 6 जुलाई को उन्होंने डॉक्टर को गिरफ्तार कर मेरठ ले गए। इसके बाद वह डॉक्टर को वेदव्यासपुर, बिजनौर, मुजफ्फरनगर समेत कई स्थानों पर ले गए।

कंपनी से बदला लेने के लिए ग्राहक का किडनैप

यूपी एसटीएफ के मुताबिक आरोपियों ने ओला कंपनी को सबक सिखाने के लिए डॉक्टर को किडनैप किया। ये सभी आरोपी एक समय में ओला कंपनी में काम करते थे। ये आरोपी अपनी गाड़ियां ओला कंपनी में लगाने के बाद, फर्जी आई डी पर रुपए की हेरा-फेरी करते थे। कंपनी को जब इस बारे में पता चला तो उन्होंने आरोपियों की कार रिजेक्ट कर दी। कंपनी के इस सख्त निर्णय के खिलाफ प्रतिशोध लेने के लिए आरोपियों ने इस करतूत को अंजाम दिया और कंपनी को सबक सिखाने की ठानी। उन्होंने ओला के ग्राहक डॉ. श्रीकांत गौड़ का दिल्ली के प्रीत विहार से अपहरण किया और उन्हें छोड़ने के ऐवज में ओला कंपनी से 5 करोड़ रूपए की फिरौती की मांग की।

यूपी एसटीएफ की टीम

आरोपियों को गिरफ्तार करने वाली एसटीएफ टीम में अपर पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी, पुलिस उपाधीक्षक बृजेश कुमार सिंह, निरीक्षक धर्मेन्द्र यादव आदि अधिकारी शामिल हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …