लखनऊ: आंगनबाड़ी सहायिकाओं ने की वेतन बढ़ाने की मांग, विधानमंडल का घेराव

डीएन संवाददाता

आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों ने अपने वेतन बढ़ोत्तरी सहित नियमितीकरण की मांगों को लेकर विधानमंडल का घेराव कर प्रदर्शन किया।


लखनऊ: आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों और सहायिकाओं ने अपनी कई मांगो को लेकर आज विधानमंडल का घेराव किया। उनके उग्र प्रदर्शन को देखते हुये मौके पर भारी पुलिस फोर्स तैनात की गई।आंगनबाड़ी सहायिकाओं ने इस दौरान राज्य सरकार पर वादाखिलाफी का भी आरोप लगाया।

मौके पर तैनात पुलिस फोर्स

कार्यकत्रियों की यही मांग है कि वह सरकार से लिखित आश्वासन के बिना प्रदर्शन से नहीं हटेंगी। घेराव के दौरान उन्होंने योगी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

विधानमंडल के बाहर खड़ी आगनबाड़ी कार्यकत्रियां

डाइनामाइट न्यूज़ से बातचीत में आंगनबाड़ी कार्यकत्री संघ की प्रदेश अध्यक्ष किरन वर्मा ने कहा कि यूपी चुनावों के समय भाजपा ने अपने घोषणापत्र में आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों का वेतन बढ़ाने का वादा किया था और उनसे 120 दिन का समय मांगा था। मगर अब सरकार बनने के बाद सरकार उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दे रही है।

पुलिस प्रशासन से बात करती आगनबाड़ी कार्यकत्री

आंदोलन जारी रखने की चेतावनी

आगनबाड़ी कार्यकत्रियों ने बताया कि वह लोग पिछले एक महीने से अपनी मांग के लिये आंदोलनरत हैं। लेकिन सरकार उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दे रही है। यही कारण है कि आज सभी कार्यकत्रियों ने विधानमंडल का घेराव किया।

ये हैं आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों की मांगें

अभी तक आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को 4 हजार, मिनी आंगनबाड़ी को 3 हजार व सहायिकाओं को 2 हजार रुपए का वेतन दिया जाता है। अब उनकी मांगें हैं कि आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को 20 हजार, मिनी आंगनबाड़ी को 15 हजार व सहायिका को 12 हजार का मानदेय दिया जाए।
 













संबंधित समाचार