जंगली जानवर की तरह पेश आया राम रहीम, वह माफी का हकदार नहीं: जज

डीएन संवाददाता

डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम को 20 साल की सजा सुनाने के दौरान सीबीआई की स्पेशल कोर्ट के जज जगदीप सिंह ने कहा कि राम रहीम ने अपनी ही अनुयायियों के साथ जंगली जानवर जैसा बर्ताव किया है, वह किसी रहम का हकदार नहीं है।

 राम रहीम
राम रहीम

रोहतक: डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख राम रहीम को दो साध्वियों से रेप केस में सीबीआई की स्पेशल कोर्ट के जज जगदीप सिंह लोहान ने 10-10 साल की सजा सुनाई।
सजा सुनाने के दौरान सीबीआई की विशेष अदालत के जज जगदीप सिंह ने इस मामले में कोई नरमी बरतने से इंकार कर दिया और कहा कि राम रहीम ने जंगली जानवर जैसा काम किया है, वह माफी का हकदार नहीं है। 

यह भी पढ़ें:राम रहीम को सजा सुनाने वाले जज जगदीप सिंह की खास बातें


जज ने कहा कि पीड़ित लड़कियों ने राम रहीम को भगवान की तरह पूजा, उसकी सेवा की और उसे पिता का दर्जा दिय़ा। राम रहीम ने उन्हीं लड़कियों के साथ घिनौनी हरकत की, ऐसा शख्स कोर्ट की किसी भी हमदर्दी का हकदार नहीं है। सीबीआई अदालत के जज ने कहा कि एक ऐसे व्यक्ति को नरमी पाने का कोई हक नहीं है, जिसे न तो इंसानियत की चिंता है और न ही उसके स्वभाव में दया-करूणा का कोई भाव है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)