DN Exclusive: कुवैत से फोन पर पत्नी को दिया तलाक, बेघर हुई पीड़िता ने लगायी न्याय की गुहार

विश्व दीपक अवस्थी

भले ही सुप्रीम कोर्ट ने हाल ही में तीन तलाक को लेकर महत्वपूर्ण फैसला सुनाते हुए फिलहाल इसको अगले निर्णय तक के लिये प्रतिबंधित कर दिया हो, लेकिन यह "बीमारी" अब भी खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। इसका ताजा मामला फतेहपुर में सामने आया, जहां कुवैत में रहने वाले एक शख्स ने अपनी पत्नी को फोन पर तलाक दे दिया और 10 साल पुराने रिश्ते को एक पल में ही खत्म कर दिया। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज की खास रिपोर्ट..


फतेहपुर: जाफरगंज थाने के दलेलखेड़ा में रहने वाली अफसाना की शादी को 10 साल पूरे हो चुके है। अफसाना के दो बच्चे हैं, जिनकी उम्र कमश: 5 साल व 3 साल। अफसाना का पति कुवैत में काम करता है। अफसाना भी एक सामान्य महिला की तरह अमन-चैन की जिंदगी जी रही थी, लेकिन एक रोज कुवैत से आये उसके पति के एक फोन कॉल ने पल भर में ही उसके जीवन को तबाह कर दिया। पति ने फोन पर ही उसे तीन बार तलाक कहा और अफसाना को एक पल में ही खुद से अलग कर दिया। इसके बाद पति के घर वालों ने भी अफसाना की एक बात नहीं सुनी और उसे दर-दर की ठोकरों खाने को मजबूर कर दिया।

अफ़साना ने अब तीन तलाक और घरेलू हिंसा के खिलाफ फतेहपुर की एसपी श्रीपर्णा गांगुली से न्याय की गुहार लगाई है। एसपी ने भी अफ़साना को उचित कानूनी कार्यवाही का भरोसा दिलाया है।

 

डाइनामाइट न्यूज़ से बातचीत के दौरान अफ़साना ने बताया कि उसका पति ख्वाजा अली कुवैत में रहता है, उसके पति ने कुवैत से ही अफ़साना को फ़ोन तलाक दे दिया है। अफ़साना ने कहा कि उसकी शादी दस साल पहले दलेलखेड़ा के ख्वाजा अली से हुई थी। आज उसके दो बच्चे हैं। अफ़साना का आरोप है कि उसके ससुराल वालों ने उसके साथ मारपीट की उसे घर से भी निकाल दिया है। 

इस मामले में अफ़साना के पिता रहीसुद्दीन ने डाइनामाइट न्यूज़ को बताया कि मैंने अपनी बेटी की शादी गांव के ही ख्वाजा अली से की थी। उसने दो बीघा ज़मीन और दस लाख रुपये की मांग की थी, जिसको मैं पूरा नहीं कर सका। इसी वजह से उसने हमारी बेटी को तलाक दिया है। हमारी बेटी के साथ अत्याचार हुआ है। 

पीड़िता के पड़ोसी अनवरी और अब्दुल्ला ने बताया कि उसके पति ने हमसे फ़ोन में अफ़साना से तलाक की बात कही थी। 

 

डाइनामाइट न्यूज से बातचीत करते हुऐ फतेहपुर की एसपी श्रीपर्णा गांगुली ने कहा कि अफ़साना के पति ने फ़ोन से उसको तलाक दिया है, साथ ही इसमें घरेलू हिंसा का भी मामला है। महिला के पति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। कोर्ट के फैसले के बाद आगे की कार्यवाही की जाएगी।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार