फतेहपुर: अपनों ने मारी गर्भवती के पेट में लात, ग्रामीणों ने दिया अबला का साथ, किया हाईवे जाम

डीएन संवाददाता

जहानाबाद थाना क्षेत्र में सपंत्ति बंटवारे के दौरान एक गर्भवती महिला के साथ उसके ससुर और ननदों ने जो निंदनीय करतूत की, उससे ग्रामीणों में भारी आक्रोश रहा। अबला महिला का ग्रामीणों ने भरपूर साथ दिया और दोषियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर राजमार्ग जाम कर डाला। डाइनामाइट न्यूज़ की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट..


फतेहपुर: जहानाबाद थाना क्षेत्र में एक महिला के साथ उसके ससुर और ननदों जो अमानवीय व्यवहार किया, उसके खिलाफ ग्रामीणों का जबरदस्त गुस्सा फूट पड़ा। अपनों से प्रताड़ित की गयी गर्भवती अबला महिला के पक्षा में पूरा गांव खड़ा हो गया और आरोपियों के खिलाफ प्रदर्शन करने लगा। गुस्साये ग्रामीणों ने जहानाबाद पहुंचकर यूपी के कारागार राज्य मंत्री जय कुमार सिंह जैकी के कैंप कार्यालय के बाहर हाईवे जाम कर दिया। मंत्री के द्वारा आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई के आश्वासन दिये जाने के बाद ही गुस्साये ग्रामीणों ने जाम खोला। 

मामला जहानाबाद थाने क्षेत्र में स्थित भवानी सिंह का पुरवा गांव का है। यहां संपत्ति बंटावारे के दौरान एक ससुर और नंदोई ने 4 माह की गर्भवती महिला रानी देवी के पेट पर लात मार दी। रानी का एक चार साल का बेटा है। रानी देवी के पति रमेश चंद कुशवाहा की मौत बीमारी के चलते 15 दिन पहले हो चुकी है। 

जानकारी के मुताबिक पति की मौत के बाद चांदपुर थाने के बिजौली गांव निवासी सुनील, बकेवर थाने के आलमपुर गांव निवासी सत्येंद्र व लालाराम ने रानी को प्रताड़ित कर रहे थे। रानी ने यह बात अपने मायकों वालों को बतायी। जिसके बाद गर्भवती रानी के भाइयों ने बहन के जीवन यापन के लिए उसके ससुर से खेती का बंटवारा करने की गुहार लगाई थी, ताकि रानी अलग रहकर अपना गुजर-बसर कर सके। बंटवारे के लिये रानी ने अपने मायके थाना मौदहा के जीवन गांव (हमीरपुर) से भाई चेतराम व वीर को भी रविवार को बुलाया था। 

 

 

गर्भवती रानी के नंदोई इस बंटवारे का विरोध कर रहे थे। रविवार को बंटवारे की बात के दौरान ही दोनों पक्षों में विवाद हो गया। जिसके चलते रानी के नंदोई सत्येंद्र ने महिला के पेट पर लात मार दी। गर्भवती रानी की मौके पर ही ब्लीडिंग शुरू हो गई। देखते ही देखते वहां मौजूद कई लोगों ने इसका विरोध किया। महिला को इलाज के लिए सीएचसी जहानाबाद से कानपुर रेफर कर दिया गया।

गर्भवती महिला को लात मारने से गुस्साए ग्रामीण आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करने लगे। ग्रामीणों ने जहानाबाद पहुंचकर कारागार राज्य मंत्री जय कुमार सिंह जैकी के कैंप कार्यालय के बाहर रोड जाम कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों को समझाती रही लेकिन वे नहीं माने। जब मौके पर पहुंचे मंत्री के साथ पुलिस ने भी मामले में निष्पक्ष कार्रवाई का भरोसा दिया तो ग्रामीण ने जाम खोला। 

ग्रामीणों के विरोध के बाद पुलिस ने इस मामले में महिला के दोनों नंदोई व ससुर को शांति भंग करने के आरोप में देर शाम गिरफ्तार कर लिया। पुलिस का कहना है कि मामले की जांच के बाद आरोपियों के खिलाफ जरूरी कार्यवाही की जायेगी। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार