फतेहपुर में डीएम-सीडीओ दिखे पूरे तेवर में, पानी की सरकारी टंकी को कराया कब्जे से मुक्त

डीएन ब्यूरो

फतेहपुर में इन दिनों जिलाधिकारी आंजनेय कुमार सिंह और सीडीओ चांदनी सिंह की जोड़ी भ्रष्टाचारियों और गलत काम करने वालों के खिलाफ कहर बनकर टूट रही है। रोजाना वे कहीं न कहीं ताबड़तोड़ दौरे कर रहे हैं, इसी कड़ी में आज पहुंचे रहमतपुर गांव। ग्राउंड जीरो से डाइनामाइट न्यूज़ की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट..

ग्रामीणों से बातचीत करते डीएम आंजनेय कुमार सिंह
ग्रामीणों से बातचीत करते डीएम आंजनेय कुमार सिंह

फतेहपुर: जिलाधिकारी आंजनेय कुमार सिंह और सीडीओ चांदनी सिंह इन दिनों जिले में चल रही विभिन्न योजनाओं का जायजा लेने के लिये लगातार ब्लॉकों, गांवों-कस्बों का भ्रमण कर रहे हैं। जिलाधिकारी के सख्त तेवरों से ग्राम प्रधानों और खासकर भ्रष्टाचारियों में खासी दहशत देखी जा रही है। जिलाधिकारी ने शुक्रवार को सीडीओ के साथ रहमतपुर का दौरा किया, जहां उन्होंने जल निगम द्वारा बनाई गयी सरकारी टंकी को एक दबंग के कब्जे से मुक्त कराया।

जिलाधिकारी को रहमतपुर में  ग्रामीणों से सरकारी टंकी पर वीरेंद्र कुमार द्वारा अवैध कब्जे की शिकायत मिली थी, जिसको जिलाधिकारी ने मौके पर ही कब्जे से मुक्त कराया। डीएम के इस काम की ग्रामीणों द्वारा खूब तारीफ की जा रही।  

स्कूल में बच्चों से बातचीत करते जिलाधिकारी

 

इसके अलावा जिलाधिकारी ने ग्राम पंचायत बरदरा,रामपुर के प्राथमिक विद्यालय,  उच्च प्राथमिक विद्यालय, आंगनबाड़ी,पूर्व माध्यमिक विद्यालय कीर्तिखेड़ा का दौरा किया और सभी स्कूलों में पठन-पाठन का जायजा भी लिया। स्कूलों में जिलाधिकारी के पहुंचने से टीचरों में हड़कंप मच गया। डीएम ने स्कूल में नौनिहालों से भी बातचीत की और स्कूल में मिलने वाले मिड-डे मील समेत वहां मौजूद सुविधाओं की जानकारी दी।

डीएम के सख्त तेवरों से भ्रष्टाचारियों में दहशत

 

जिलाधिकारी ने 15 सितंबर तक जिले को खुले में शौच मुक्त बनाने का लक्ष्य रखा है। इसी लक्ष्य के मद्देनजर जिलाधिकारी ने शुक्रवार को गांवों के अपने दौरे के दौरान शौचालयों को शत प्रतिशत बनाकर ओडीएफ घोषित करने के लिये संबंधित ग्राम प्रधानों को सख्त और जरूरी निर्देश भी दिये। 
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …