पूर्व कांग्रेस सांसद प्रिया दत्त नहीं लड़ेंगी आगामी लोकसभा चुनाव, ये है वजह

डीएन ब्यूरो

पूर्व कांग्रेस सांसद प्रिया दत्त ने आगामी लोकसभा चुनाव न लड़ने का निर्णय लिया है। डाइनामाइट न्यूज की इस रिपोर्ट में पढ़ें प्रिया दत्त के लोकसभा चुनाव न लड़ने के पीछे की क्या वजह है..

पूर्व कांग्रेस सांसद प्रिया दत्त
पूर्व कांग्रेस सांसद प्रिया दत्त

नई दिल्ली: पूर्व कांग्रेस सांसद प्रिया दत्त ने सोमवार को घोषणा की कि वे आगामी लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी। उनके चुनाव न लड़ने के पीछे का कारण जहाँ एक ओर पार्टी में आंतरिक तनाव बताया जा रहा है तो वहीं दूसरी ओर दत्त का कहना है कि उन्होंने कुछ निजी कारणों की वजह से यह निर्णय लिया है।

सोमवार को पूर्व कांग्रेस सांसद ने एएनआई को दिए अपने बयान में कहा, “मैं 2019 के लोकसभा चुनाव नहीं लड़ूंगी। बीते पिछले साल मेरे लिए रोमांचक और ज्ञानवर्धक रहे हैं। हालांकि, मैंने अपने व्यक्तिगत और राजनीतिक जीवन में संतुलन बनाए रखने के लिए काफी संघर्ष किया। मुझसे जितना बन सका उतने में ही मैंने अपना बेस्ट देने की कोशिश की।”

 

उन्होंने कहा, “मैं नहीं मानती कि चुनाव लड़कर ही आप लोगों की सेवा कर सकते हैं। मैंने कई लोगों को देखा है जो समाज में बेहतरी के लिए नि:स्वार्थ भाव से काम कर रहे हैं। मैं भी ऐसा ही कुछ करना चाहती हूं।” बॉलिवुड अभिनेता और राजनेता सुनील दत्त की बेटी प्रिया दत्त ने 2005 में राजनीति में दम रखा था। अब तक वे तीन लोकसभा चुनाव लड़ चुकी हैं। आखिरी बार उन्होंने 2014 में लोकसभा चुनाव लड़ा था।

आंतरिक गुटबाजी से थीं परेशान 

उनके चुनाव न लड़ने को लेकर कयास लगाए जा रहे हैं कि वे पार्टी में हो रही आंतरिक गुटबाजी से परेशान थीं। माना जा रहा है कि उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को पत्र लिखा था। इस पत्र में उन्होंने मुंबई कांग्रेस में पार्टी के नेताओं की आंतरिक गुटबाजी का ज़िक्र किया है। इससे दत्त बेहद परेशान थीं इसलिए उन्होंने चुनाव न लड़ने का निर्णय लिया है।

ये पहली दफा नहीं है जब उन्होंने पार्टी में हो रही गुटबाजी का ज़िक्र किया है। इससे पहले भी वे इसको लेकर असंतोष जाहिर कर चुकी हैं। प्रिया अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के सचिव पद पर कार्यरत थीं। कांग्रेस नेतृत्त ने पिछले वर्ष सितंबर महीने में उन्हें इस जिम्मेदारी से मुक्त कर दिया था। 
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …