यूपी परिवहन के 35 हजार संविदा कर्मियों की अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल, यात्री परेशान

डीएन संवाददाता

यूपी परिवहन निगम के संविदा यूनियन से जुड़े लोग 21अगस्त को भाजपा मुख्यालय का घेराव करने समेत बड़े आन्दोलन की चेतावनी दे रहे हैं।

भूख हड़ताल पर बैठे  परिवहन निगम के संविदा कर्मचारी
भूख हड़ताल पर बैठे परिवहन निगम के संविदा कर्मचारी

लखनऊ: यूपी परिवहन निगम के 35 हजार संविदा कर्मचारी प्रबंधन के रवैये से नाराज होकर अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठ गये हैं। जिसके कारण यात्रियों को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

कर्मचारियो की मांग है कि 10-15 साल से काम कर रहे संविदा चालकों और परिचालकों को नियमित किया जाए। साथ ही नये कर्मचारियों की भर्ती न हो। परिवहन प्रशासन कर्मचारी यूनियन की इन मांगो को मानने के लिए तैयार नही हैं।

सीएम योगी की पहल के बाद भी नहीं निकल पाया कोई रास्ता

संविदा कर्मचारी यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष रामराज विश्वकर्मा का कहना है कि कुछ सविंदा कर्मी अपनी समस्याओं को लेकर सीएम योगी से भी मिले थे। इस पर सीएम ने परिवहन निदेशक को कर्मचारियों संग बैठक कर मामले का निस्तारण करने को कहा था। लेकिन परिवहन निदेशक की पहल पर अधिकारियों संग यूनियन की हुई बैठक का भी कोई नतीजा नही निकला।

सीएम के आदेश पर हुई बातचीत के बेनतीजा होने पर संविदा यूनियन से जुड़े लोग 21अगस्त को भाजपा मुख्यालय का घेराव सहित बड़े आन्दोलन की बात कह रहे हैं।

संविदा कर्मचारी यूनियन के अध्यक्ष रामराज विश्वकर्मा ने कहा कि उनके इस हड़ताल में 35 हजार कर्मचारी शामिल हैं। वहीं कर्मचारियो और प्रबंधन के बीच तनातनी के कारण आम यात्रियों को बसों की कमी से सड़कों पर जूझना पड़ रहा है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …