रूसी मेट्रो हमले का संदिग्ध है 'मध्य एशियाई नागारिक'

डीएन संवाददाता

रूस के शहर सेंट पीटर्सबर्ग की भूमिगत मेट्रो में सोमवार को हुए बम विस्फोट का संदिग्ध मध्य एशियाई नागरिक है। एक रिपोर्टों के मुताबिक, संदिग्ध की उम्र 22-23 साल है। एक रिपोर्ट के अनुसार, सेंट पीटर्सबर्ग में सोमवार दोपहर दो भूमिगत मेट्रो स्टेशनों के बीच हुए विस्फोट में 45 लोग घायल हो गए। घटनास्थल से एक विस्फोटक भी मिला, जिसे निष्क्रिय कर दिया।

वारदात स्थल
वारदात स्थल

मास्को:  रूस के शहर सेंट पीटर्सबर्ग की भूमिगत मेट्रो में सोमवार को हुए बम विस्फोट का संदिग्ध मध्य एशियाई नागरिक है। रिपोर्टों के मुताबिक, संदिग्ध की उम्र 22-23 साल है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, सेंट पीटर्सबर्ग में सोमवार दोपहर दो भूमिगत मेट्रो स्टेशनों के बीच हुए विस्फोट में 45 लोग घायल हो गए। घटनास्थल से एक विस्फोटक भी मिला, जिसे निष्क्रिय कर दिया।

एक रिपोर्ट के मुताबिक, संदिग्ध की पहचान कर ली गई है, लेकिन अभी इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है कि संदिग्ध आत्मघाती हमलावर था या नहीं।

रूस के जांचकर्ताओं ने इस घटना को संदिग्ध आतंकवादी घटना करार दिया है। लेकिन उन्होंने इस संदर्भ में कुछ ही जानकारियां दी हैं। अभी तक किसी भी आतंकवादी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। सेंट पीटर्सबर्स प्रशासन ने पीड़ितों के लिए तीन दिवसीय शोक की घोषणा की है।

राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने सोमवार शाम को घटनास्थल का दौरा किया। घटना के समय पुतिन शहर में ही थे।

प्रधानमंत्री दिमित्री मेदवेदेव ने फेसबुक पर कहा कि यह आतंकवादी हमला था।

रिपोर्ट के मुताबिक, दुनियाभर के कई नेताओं ने भी रूस में हुए हमले की निंदा की है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस भयावह करार दिया है जबकि जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने इस अमानवीय कृत्य करार दिया है।  (आईएएनएस)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार