महराजगंज जिले की 7 में से 3 सीट भाजपा, 3 निर्दलियों और 1 कांग्रेस को मिली.. वोटों का पूरा विश्लेषण..

डीएन ब्यूरो

निकाय चुनाव के परिणाम के बाद महराजगंज जिले की जो तस्वीर सामने निकलकर आय़ी है उससे साफ है कि राजनीतिक दलों के दबदबे के आगे निर्दलीय भारी पड़े हैं। सिर्फ भाजपा अपनी इज्जत बचाने में कामयाब हुई है। वोटों की पूरी तहकीकात डाइनामाइट न्यूज़ की इस रिपोर्ट में..

सदर सीट पर जीत के बाद भाजपा प्रत्याशी व उनके समर्थक
सदर सीट पर जीत के बाद भाजपा प्रत्याशी व उनके समर्थक

महराजगंज: जिले की प्रतिष्ठापूर्ण सात सीटों पर नतीजे आने के बाद साफ हो गया कि जनता ने राजनीतिक दलों से ज्यादा निर्दलियों पर भरोसा जताया है। जिले में कुल दो नगर पालिकाएं और पांच नगर पंचायतें हैं। इनमें से तीन सीटों सदर, फरेन्दा और सिसवा में भाजपा ने कब्जा जमाया तो वहीं पर निचलौल में कांग्रेस उम्मीदवार को सफलता मिली है। घुघुली, नौतनवा और सोनौली में निर्दलियों ने बाजी मारी है।

महराजगंज सीट का अधिकृत रिजल्ट

1. सदर नगर पालिका अध्यक्ष 

सदर की नगर पालिका अध्यक्ष की सालाना सौ करोड़ के बजट वाली कुर्सी पर भाजपा उम्मीदवार कृष्ण गोपाल जायसवाल का कब्जा हुआ है। इन्होंने 987 वोटों से अपने निकटतम प्रतिद्वंदी बसपा के श्रवण पटेल को शिकस्त दी है। अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित सदर की इस सीट पर कुल मतदाता 26816 थे, जिनमें से 19737 ने मतदान किया। इनमें से 737 वोट अवैध घोषित किये गये और 27 ने नोटा का प्रयोग किया। कुल 18,973 मतों से नगर के लोगों ने अपने बीच प्रथम नागरिक का चुनाव किया। कुल पोल वोटों का 39.21 प्रतिशत मत पाकर कृष्ण गोपाल विजयी हुए।

फरेन्दा सीट का अधिकृत रिजल्ट

2. फरेन्दा नगर पंचायत अध्यक्ष

फरेन्दा (आनंद नगर) सीट पर निवर्तमान अध्यक्ष विनोद गुप्ता को करारा झटका लगा है। यहां भाजपा के उम्मीदवार राजेश जायसवाल को 2484 वोट मिले जबकि इनके निकटतम प्रतिद्वंदी विनोद गुप्ता को 1834 वोट मिले। इस तरह 650 वोटों से यहां जीत-हार हुई। तनवीर को 879, शंकर को 819 और संजय को 51 मत मिले।

सिसवा सीट का अधिकृत रिजल्ट

3. सिसवा नगर पंचायत अध्यक्ष

सिसवा सीट पर पूर्व अध्यक्ष जगदीश जायसवाल की पत्नी रागिनी जायसवाल ने कांटे के मुकाबले में सपा और बसपा उम्मीदवार को हरा दिया। रागिनी को 2795 वोट मिले जबकि सपा की पुष्पा को 2526 मत मिले। इनसे मा6 4 मत कम मिले बसपा की उर्मिला को। इस तरह रागिनी ने यहां पर महज 269 वोट से जीत हासिल की। अन्य में किरन देवी को 1835, संध्या देवी 1116, प्रियंका को 128, संगीता को 57, पुनीता को 46 वोट मिले। 

निचलौल सीट का अधिकृत रिजल्ट

4. निचलौल नगर पंचायत अध्यक्ष

निचलौल सीट पर पूर्व अध्यक्ष विश्वनाथ मद्देशिया ने एक बार फिर कांग्रेस उम्मीदवार के रुप में जीत दर्ज की है। 657 वोटों के अंतर से विश्वनाथ ने अपने सगे भाई और सपा उम्मीदवार शिवनाथ मद्देशिया से हराया। भाजपा के अनिल को 2286, सावित्री को 202, बृजेश को 147, नुरुलोन 110 और सिराजुद्दीन को 49 मत मिले।

घुघुली सीट का अधिकृत रिजल्ट

5. घुघुली नगर पंचायत अध्यक्ष

जिले के सबसे महंगे चुनावों में शुमार इस सीट पर एक बार फिर निर्दलीय अशोक कुमार उर्फ मल्लु की पत्नी उर्मिला ने जीत दर्ज की है। इन्हें 2307 वोट मिले। इन्होंने भाजपा के राजेश सिंह को 698 वोटों से हराया। राजेश को 1609, संतोष 1103, ओमप्रकाश 711, सुरेश 349, सपा के मनोज कुमार को 212, बसपा की शीला को 75, प्रेम सागर को 30 और द्वारिका को 14 वोट मिले।

नौतनवा सीट का अधिकृत रिजल्ट

6. नौतनवा नगर पालिका अध्यक्ष

जिले की इस बेहद चर्चित सीट पर पूर्व मंत्री अमरमणि त्रिपाठी और स्थानीय विधायक अमनमणि त्रिपाठी के बेहद खास निर्दलीय गुड्डू खान ने एक बार फिर अपना आभामंडल साबित कर दिया। उन्होंने सपा औऱ भाजपा के दिग्गजों को चित करते हुए अपनी कुर्सी को बरकरार रखा। मोहम्मद कलीम उर्फ गुड्डु खान को 7572 वोट मिले। इन्होंने 2961 मतों के बंपर अंतर से सपा के रजनी को करारी शिकस्त दी। रजनी को 4611, भाजपा के जगदीश गुप्ता को 4154, बसपा के दिलीप को 442 औऱ सरोज को 211 वोट मिले।

सोनौली सीट का अधिकृत रिजल्ट

7. सोनौली नगर पंचायत अध्यक्ष

नौतनवा की तरह इस सीट पर भी पूर्व मंत्री अमरमणि त्रिपाठी और स्थानीय विधायक अमनमणि त्रिपाठी के बेहद करीबी सुधीर त्रिपाठी की पत्नी कामना को यहां जबरदस्त जीत मिली है। सोनौली को नगर पंचायत का दर्जा अभी हाल में ही मिला है औऱ यहां पहली बार चुनाव हुए हैं। यहां 551 वोटों से कामना को जीत मिली। उन्होंने RLD के महरुन्ननिशा को हराया है। यहां सपा उम्मीदवार शकुंतला तीसरे नंबर पर खिसक गयी और इन्हे महज 1488 वोट मिले। बसपा की मीना को 1310, भाजपा की सुनीता को 766, मंजू को 586, शबनम को 333, संगीता को 277, गीता को 173, शारदा को 148, आशा सिंह को 133, हुमानुशरत को 112 और पुश्पा जायसवाल को 46 वोट मिले। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …