बलरामपुर: नाराज शिक्षकों के आंदोलन से परीक्षा मूल्यांकन कार्य ठप्प, लड़ाई में नया मोड़

डीएन संवाददाता

परीक्षा कापियों के मूल्यांकन को लेकर शिक्षकों, डीआईओएस और दो लिपिकों में चल रही लड़ाई में एक नया मोड़ आया है। पढ़िये पूरी खबर...


बलरामपुर: डीआईओएस और दो लिपिकों की कार्य प्रणाली से नाराज शिक्षकों ने तीसरे दिन भी बोर्ड उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन कार्य ठप रखा है। माध्यमिक शिक्षकों के बढ़ते आक्रोश को देखते हुए सदर तहसीलदार व एसडीएम ने मूल्यांकन केंद्र पर जाकर उनसे बात की, लेकिन शिक्षकों ने उन्हें बिना बात किये ही वापस लौटा दिया। 

डिप्टी डायरेक्टर सूर्य नारायण मिश्र ने कहा कि शिक्षकों की मांग को लेकर शासन को अवगत करा दिया गया है। समयावधि के भीतर उत्तर पुस्तिकाओं का मूलयांकन करवा लिया जायेगा।

गंभीर होते इस मामले को लेकर शिक्षक संघ के नेता भगवती प्रसाद शुक्ला के नेतृत्व में प्रतिनिधि मंडल ने एडीएम न्यायिक रामानुज सिंह से भी बात कर कार्यवाही की। हालांकि उन्होंने इस मामले में असमर्थता जताई। एडीएम अरुण कुमार शुक्ल ने शिक्षकों व डीआइओएस से बात की, लेकिन इसके बाद भी कोई भी हल नहीं निकल सका।

बता दें कि शिक्षक डीआइओएस ह्रदय नारायण तिवारी व लिपिक प्रवीण सिंह तथा शैलेन्द्र सिंह को हटाने की मांग कर रहे हैं।













संबंधित समाचार