गणतंत्र दिवस पर वीरता को सलाम करते हुए नम हुईं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की आंखें

डीएन ब्यूरो

आज पूरे देश में गणतंत्र दिवस की धूम है। इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने वायुसेना के शहीद गरुड़ कमांडो जेपी निराला को शांतिकाल के सबसे बड़े वीरता पुरस्कार अशोक चक्र से सम्मानित किया।

वीरता पुरस्कार से शहीदों के परिजन को सम्मानित करते कोविंद
वीरता पुरस्कार से शहीदों के परिजन को सम्मानित करते कोविंद

नई दिल्ली: आज पूरे देश में गणतंत्र दिवस की धूम है। इस मौके पर राजपथ पर परेड निकाली गई। इस बार आसियान देशों के 10 राष्ट्र प्रमुख गणतंत्र दिवस के मेहमान बने। 

इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने वायुसेना के शहीद गरुड़ कमांडो जेपी निराला को शांतिकाल के सबसे बड़े वीरता पुरस्कार अशोक चक्र से सम्मानित किया।अशोक चक्र शांति काल का सर्वोच्च वीरता सम्मान है। निराला की पत्नी ने राष्ट्रपति से यह सम्मान प्राप्त किया। शहीदों के परिवार को सम्मानित करते हुए कोविंद के आंखो में आंसू आ गये।

 

जम्मू कश्मीर में एक अभियान के दौरान दो आतंकवादियों को मार गिराने वाले भारतीय वायु सेना के गरुड़ कमांडो ज्योति प्रकाश निराला को मरणोपरांत शांतिकाल में सर्वोच्च वीरता पुरस्कार अशोक चक्र से सम्मानित किया गया। बता दें कि भारतीय वायुसेना के इतिहास में यह पहला मौका है जब किसी गरुड़ कमांडो को अशोक चक्र से नवाजा गया है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार